Politics

छत्तीसगढ़: राज बब्बर बोले, 'गोलियों से फैसले हल नहीं होते, हमें उनके सवालों को एड्रेस करना पड़ेगा'

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

छत्तीसगढ़ के रायपुर में कांग्रेस नेता राज बब्बर ने मीडिया से बात करते हुए रमन सिंह सरकार पर जोरदार हमला बोला है. राज बब्बर ने पहले छत्तीसगढ़ की स्वास्थ्य प्रणाली पर सवाल उठाया उसके बाद उन्होंने माओवादियों को लेकर दिए गए एक बयान में कहा कि, ''गोलियों से फैसले हल नहीं होते.. उनके सवाल को एड्रेस करना पड़ेगा.. और उनको डरा कर .. उनको बहका कर या लालच देकर क्रांति के जो लोग निकले हुए हैं उन्हें रोक नहीं सकते हैं.''

इसके साथ ही राज बब्बर ने कहा, 'न इधर की बंदूक से हल निकलेगा न उधर की बातचीत से हल निकलेगा.. हल, केवल उनके अधिकारों को एड्रेस करने से निकलेगा.. मैं मानता हूं कि ये आतंकवादी हरकतें ऐसी शुरुआत से होती है.. नक्सल आंदोलन जो शुरू हुआ है ये अधिकारों को लेकर शुरू हुआ है.. इनके अधिकारों के लेकर हमें एक साथ बैठना पड़ेगा.. जो लोग कही न कही आज अपने रास्ते से भटक गए हैं. उन भटके हुए लोगों को खींच कर लाना पड़ेगा..'

इससे पहले कांग्रेस नेता राज बब्बर ने कहा था कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह डॉक्टर हैं और एक डॉक्टर ने यहां की स्वास्थ्य सेवाओं को गंभीर स्थिति में धकेल दिया है. बब्बर ने पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का नाम लिए बगैर कहा कि राज्य ने कलेक्टर और डॉक्टर के शासनकाल को देखा है. राज्य में चुनाव के लिए डॉक्टर ने कलेक्टर के साथ टेबल के नीचे हाथ मिला लिया है. गौरतलब है कि जोगी राजनीति में आने से पहले आईएएस अधिकारी थे और साल 2000 से 2003 तक उन्होंने राज्य में कांग्रेस सरकार का नेतृत्व किया था.

बता दें, चुनाव आयोग ने छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव की तारीकों का ऐलान कर दिया है. राज्य में पहले चरण में 18 विधानसभा सीटों पर 12 नवंबर को मतदान होगा, जबकि दूसरे चरण में 72 सीटों पर 20 नवंबर को मतदान होगा.

 

DO NOT MISS