Politics

PM मोदी के कुंभ स्नान पर मायावती का तंज - 'क्या शाही स्नान से ज़ुल्म-ज़्यादती और पाप धुल जाएंगे?'

Written By Amit Bajpayee | Mumbai | Published:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को प्रयागराज में चल रहे कुंभ मेले के दौरान संगम में आस्था की डुबकी लगाई। इसके बाद उन्होंने पवित्र संगम पर मंत्रोच्चार के बीच पूजा अर्चना भी की। साथ ही उन्होंने संगम में दुग्धाभिषेक किया ।  इसके बाद पीएम मोदी ने कुंभ मेले में काम करने वाले सफाई कर्मचारियों के पैर धोकर उन्हें सम्मानित किया। 


वहीं पीएम मोदी के कुंभ में स्नान पर बसपा सुप्रीमों मायावती ने तंज कसते हुए ट्वीट कर कहा 'चुनाव के समय संगम में शाही स्नान करने से मोदी सरकार की चुनावी वादाखिलाफी,जनता से विश्वासघात व अन्य प्रकार की सरकारी ज़ुल्म-ज़्यादती व पाप क्या धुल जाएँगे? नोटबंदी,जीएसटी,जातिवाद, द्वेष व साम्प्रदायिकता आदि की ज़बर्दस्त मार से त्रस्त लोग क्या बीजेपी को इतनी आसानी से मांफ कर देंगे?

एक दूसरे ट्वीट में मायावती ने किसानों को सम्मान निधि में 2000 रुपये की पहली किस्त दिए जाने पर भी सवाल उठाते हुए कहा ,'श्री मोदी सरकार को किसान व खेतिहर मज़दूरों में अन्तर करना चाहिये। चुनाव से पहले 500 रु प्रति माह की सहायता भूमिहीन खेतिहर मज़दूरों हेतु तो ठीक है, लेकिन किसानो के लिये नहीं। किसान पैदावार का वाजिब मूल्य चाहते है। बीजेपी सरकार 5 साल में यह सुनिश्चित नहीं कर पायी। यह विफलता है। ''


बता दें इससे पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी शायराना अंदाज में ट्वीट कर पीएम मोदी के कुम्भ दौरे के दौरान सफाई कर्मियों के पैर पखराने पर कटाक्ष करते हुए मीडिाय पर भी सवाल उठाए है। वहीं अखिलेश यादव ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पीएम नरेंद्र मोदी का सपना 'वर्ष 2019 तक हर घर में शौचालय' पर तंज कसा । उन्होंने कहा की पहले हर शौचालय में एक गड्ढा किया जाता था लेकिन आजकल दो गड्ढा किए जा रहे हैं । लेकिन शौचालय में पानी नहीं है तो लोग उसका प्रयोग कैसे कर पाएंगे। 

DO NOT MISS