Elections 2018


Politics

BJP ने ममता बनर्जी पर लगाया गंभीर आरोप, कहा- ''ममता चला रही हैं तानाशाही''

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

भारतीय जनता पार्टी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर राज्य में अपना 'तानाशाही' रवैया अपनाने का आरोप लगाया है. BJP का कहना है कि ममता बनर्जी तुष्टिकरण की राजनीति में व्यस्त हैं. 

दरअसल बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में आगामी सात दिसंबर को शुरू हो रही ''रथयात्रा'' पश्चिम बंगाल में निकालने के लिए राज्य सरकार ने इजाजत नहीं दी जिसके बाद बीजेपी ने ममता सरकार के खिलाफ जमकर जहर उगला. बीजेपी ने ''रथयात्रा'' के लिए कलकत्ता हाई कोर्ट का रुख किया था. 

भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने ममता सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि ममता बनर्जी  ''तुष्टिकरण की राजनीति'' कर रही हैं. इसलिए ममता की सरकार ने इससे पहले RSS प्रमुख मोहन भागवत के कार्यक्रम पर रोक लगा दी थी. अब उन्होंने अमित शाह जी के कार्यक्रम में रोक लगाई है. 

पश्चिम बंगाल की ममता सरकार से नाराज बीजेपी ने ममता बनर्जी पर जमकर हमला बोला है. इसके साथ ही पात्रा ने कहा कि वो तानाशाही रवैया अपना रही हैं.

मीडिया से बात करते हुए संबित पात्रा ने कहा, 'अनुमति पाने के लिए हमें बार बार अदालत जाना पड़ता है. अदालत ने हर बार राज्य सरकार को डांट लगाई है लेकिन उन्होंने (बनर्जी) कोई सबक नहीं सीखा.'

हालांकि उच्च न्यायालय ने भी इस आधार पर रथ यात्रा आयोजित करने की अनुमति देने से इनकार कर दिया. कोर्ट ने कहा कि इससे साम्प्रदायिक तनाव उत्पन्न हो सकता है.

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) अध्यक्ष अमित शाह का राज्य में पार्टी की ‘लोकतंत्र बचाओ रैली’ आयोजित करने का कार्यक्रम है जिसमें तीन ‘रथ यात्राएं’ शामिल हैं.

राज्य सरकार ने कहा है कि इस यात्रा से सांप्रदायिक तनाव उत्पन्न हो सकता है. दत्ता ने कहा कि जिला में सांप्रदायिक मुद्दों का एक इतिहास रहा है और वहां से ऐसी सूचना है कि सांप्रदायिकता को उकसाने वाले कुछ लोग और उपद्रवी तत्व वहां सक्रिय हैं.

भाजपा का सात दिसंबर से उत्तर में कूचबिहार से अभियान शुरू करने का कार्यक्रम है. इसके बाद नौ दिसंबर को दक्षिण 24 परगना जिला और 14 दिसंबर को बीरभूमि जिले में तारापीठ मंदिर से भाजपा का रथ यात्रा शुरू करने का कार्यक्रम है.

(इनपुट : भाषा)

Below Article Thumbnails
DO NOT MISS