Politics

विपक्ष पर अमित शाह का करारा प्रहार, बोले- ‘‘बेरोजगार हुए चालीस चोर’...

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का नाम लिये बिना उनके ‘‘चौकीदार’’ संबंधी बयान पर न केवल उन्हें बल्कि पूरे विपक्ष को निशाने पर लेते हुए बुधवार को कहा ‘‘बेरोजगार हुए चालीस चोर, चौकीदार को ही चोर साबित करने पर तुले हैं .’’

शाह ने जयपुर में ‘युवाओं से संवाद’ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए एक कहानी सुनायी . उन्होंने कहा,‘‘ एक कॉलोनी का चौकीदार बड़ा मजबूत था . वहां 40 चोर भी थे जो बार बार प्रयास करते थे और चौकीदार हर बार उन्हें खदेड़ देता . उसने उन्हें चोरी नहीं करने दी .’’

भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘‘उन चालीस चोरों ने कहा कि भाई‘ अपनी तो रोजगारी ही छीन गई . इस पर चोरों ने गठबंधन बना लिया और कॉलोनी में आकर चौकीदार को कहने लगे कि यह चोर है, चोर है . किंतु कॉलोनी के लोगों ने सही पहचान लिया और चौकीदार को पदोन्नति दे दी और चोरों को जेल में भेज दिया .’’

शाह ने कहा कि उन्हें यह कहानी विमान में एक बच्ची ने सुनाई थी .

उल्लेखनीय है कि पिछले कुछ समय से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी राफेल लड़ाकू विमान सौदे को लेकर कई बार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को ‘चौकीदार’ बताते हुए उन पर निशाना साध चुके हैं . .

शाह ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि अभी इन लोगों ने एक नया सिद्धान्त चालू किया है . झूठ बोलना, बार बार बोलना, सार्वजनिक रूप से बोलना . फिर झूठ को सच साबित करने का प्रयास करना .

वहीं  उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह का नाम लिये बिना बुधवार को कहा कि कांग्रेस के एक बड़े नेता का नाम नक्सलवादियों के एक मामले में सामने आया है . आतंकवाद और नक्सलवाद देश के लिये खतरा हैं, फिर भी इनसे कांग्रेस की सहानुभूति है .

जिले के नरसिंहगढ़ विधानसभा क्षेत्र में भाजपा के समर्थन में सभा को सम्बोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘‘कांग्रेस के बड़े नेता का नाम नक्सलवादियों के एक मामले में सामने आया है . आतंकवाद और नक्सलवाद देश के लिए खतरा हैं . फिर भी कांग्रेस की सहानुभूति है जो निंदनीय है . किसानों का हक छीनने वाली कांग्रेस को गांधी जी की इच्छा के अनुसार खत्म कर देना चाहिए, यह आपकी जवाबदारी है .’’

(इनपुट- भाषा)

DO NOT MISS