Politics

BJP MLA ने साधना सिंह का किया बचाव, कहा- 'स्वाभिमान शून्य व्यक्ति को कहा जाता है किन्नर'

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

भारतीय जनता पार्टी (BJP) के चर्चित विधायक सुरेंद्र सिंह ने बसपा प्रमुख मायावती को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी करने वाली अपनी पार्टी की विधायक साधना सिंह का खुलकर बचाव किया है.

बलिया जिले के बैरिया क्षेत्र से विधायक सिंह ने सोमवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान साधना के बयान को सही करार देते हुए कहा कि स्वाभिमान शून्य व्यक्ति को किन्नर कहा जाता है.

उन्होंने कहा कि "जून 1995 में हुए राज्य अतिथि गृह कांड की घटना के बाद भी मायावती ने जिस तरह से सपा से गठबंधन किया है, उससे स्पष्ट हो गया है कि मायावती स्वाभिमान शून्य महिला हैं." विधायक सिंह ने कहा कि वह हिटलर स्वभाव की हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि मायावती दलित एक्ट का डंक मारती रही हैं.

उन्होंने विधायक साधना सिंह के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराने पर कहा कि मुकदमा कैसे दर्ज होगा, हम लोग लड़ाई लड़ेंगे.

बता दें, साधना सिंह ने कहा था, ''हमको तो पूर्व मुख्यमंत्री न महिला लगती हैं न पुरुष लगती हैं. इनको तो अपना सम्मान ही नहीं समझ में आता. जिस महिला का इतना बड़ा चीर हरण हुआ. एक चीर हरण हुआ द्रौपदी का उसे पांडवों से प्रतिज्ञा लिया कि जब तक दुशासन हमारा जैसे बाल खींच के लाया है. जब तक उसके कंधे का लौ हमें नहीं मिलेगा. हम ये अपमान, इस बाल को बांधेंगे नहीं, धुलेंगे नहीं.. वो एक स्वाभिमानी महिला थी.''

माया-अखिलेश पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा था कि आज की महिला ये,.. सबकुछ लुट गया उसके बाद भी कुर्सी पाने के लिए अपने सारे सम्मान को बेंच दिया. ऐसी महिला मायावती जी का हम इस कार्यक्रम के माध्यम से तिरस्कार करते हैं. ये तो महिला, नारी जाति पर कलंक है. जिस महिला का आबरु लुटते-लुटते बचाया भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने.. वो महिला सुख सुविधा के लिए अपने वर्चस्व को बचाने के लिए अपने अपमान को को पीट दिया. 

इसके अलावा विधायक ने कहा था, ''महिला का जिस दिन चार हरण होगा. जिस दिन महिला का ब्लाउज फट जाए, पेटीकोट फट जाए. साड़ी फट जाए वो महिला न सत्ता के लिए आती है. वो महिला नाम पर कलंकित है. वो पूरे देश की महिला को कलंकित करती है. इस नाते हम लोगों को उसको महिला कहने में भी संकोच लगता है. वो तो किन्नर की जाति से भी बदतर है. क्योंकि न वो नर है न महिला है.''

सपा और बसपा के साथ-साथ केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री रामदास अठावले ने भी बीजेपी विधायक की इस टिप्पणी की निंदा की थी. बसपा ने इस सिलसिले में विधायक के खिलाफ बबुरी थाने में शिकायत दर्ज कराई है.

DO NOT MISS