Politics

बिहार: कांग्रेस विधायक की गाड़ी से मिली शराब की बोतलें, चार लोग गिरफ्तार

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

बिहार के सिमरी में कांग्रेस विधायक संजय कुमार तिवारी की गाड़ी से पुलिस ने 5 शराब की बोतलें बरामद की हैं। बक्सर के कांग्रेस विधायक ने कहा कि उन्होंने जगदीशपुर क्षेत्र में राशन वितरण के लिए अपनी गाड़ी दी थी और वह यह जानकर चकित हैं कि यह सिमरी तक कैसे पहुंच गयी। पुलिस ने इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही गाड़ी को भी जब्त कर लिया है।

ख़बरों के मुताबिक, इस घटना पर बिहार प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा का कहना है कि उन्होंने खुद इस पूरे मामले की जांच करने के लिए सरकार से मांग की है। अगर जांच के बाद इस मामले में विधायक की किसी भी प्रकार से संलिप्ता पाई जाती है तो पार्टी की ओर से विधायक पर कार्रवाई की जाएगी। 

ऐसी एक घटना पिछले महीने भी आई थी जब कांग्रेस के अन्य नेता की गाड़ी को शराब की तस्करी करते हुए पकड़ा गया था। कथित तौर पर इस घटना में कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय सचिव श्रवण राव शामिल थे जो कांग्रेस पार्टी के आपदा प्रबंधन प्रभारी भी हैं।

एफआईआर के अनुसार, राव को आवश्यक सेवाओं के पास का दुरुपयोग करते हुए दिल्ली-गुड़गांव सीमा पर कार में भारी मात्रा में महंगी शराब के साथ पकड़ा गया था। जब्त की गई कार कांग्रेस यूथ विंग के नेता श्रीनिवास बीवी की थी। गौरतलब है कि बिहार में शराब की खरीद, बिक्री और सेवन पर प्रतिबंध है जिसके चलते पहले भी शराब तस्करी के कई मामले सामने आ चुके हैं।

ये भी पढ़ें: केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद बोले, कांग्रेस नीरव मोदी को बचाने का प्रयास कर रही है

देश में कोरोना का कहर

देश में कोरोना वायरस संक्रमण से पिछले 24 घंटे में 134 लोगों की मौत हो चुकी है जिसके बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 2,549 तक पहुंच गई है। वहीं बुधवार सुबह आठ बजे से संक्रमण के 3,722 नए मामले सामने आए हैं जिसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या 78,003 हो गई।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में 49,219 लोगों का उपचार चल रहा है जबकि अब तक 26,234 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और एक मरीज देश से बाहर जा चुका है। स्वास्थ्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘ अब तक 33.63 फीसदी मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।’’

ये भी पढ़ें: मंत्री समूह करेगा पूर्ववर्ती कमलनाथ सरकार के अंतिम छह महीनों के फैसलों की समीक्षा

साक्षी बंसल की रिपोर्ट