Politics

अनुच्छेद 370 पर देश में पिछले 70 साल से सिर्फ चर्चा हुई, BJP ने बहुमत मिलते ही इसे हटा दिया: अमित शाह

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

दिल्ली में रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क का समिट चल रहा है। रिपब्लिक समिट के पहले दिन राजनीतिक हस्तिय़ों से लेकर सितारों का भी तड़का लगा। सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समिट को संबोधित किया, जहां उन्होंने देश के कई ज्वालित मुद्दे पर खुलकर बात की।

जिसके बाद अब समिट के दूसरे दिन केंद्रीय गृहमंत्री और बीजेपी अध्यक्ष ने रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी से धारा 370 सहित कई मुद्दों पर खुलकर बात की।

गृहमंत्री ने कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने को लेकर बोलते हुए कहा कि जो लोग कहते हैं कि चर्चा का समय नहीं दिया, इससे मैं पूर्णतः असहमत हूं। 370 पर देश 70 साल से चर्चा ही कर रहा है, दो पक्ष थे एक जो इसे हटाना चाहता था और दूसरा जो इसे हटाना नहीं चाहता था।

अमित शाह ने आगे कश्मीर में सुरक्षाबलों की मौजूदगी की लेकर कहा कि आज भी जम्मू कश्मीर में इतने ही सुरक्षा बल तैनात हैं, जो 1990 से वहां तैनात हैं। जो अतिरिक्त सुरक्षा बल वहां तैनात किये गए थे, उन्हें हटा लिया गया है। अगस्त 2019 से अब तक पत्थरबाजी की घटनाओं में गत वर्ष की तुलना में 40 से 45% तक की कमी आयी है।

पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए गृहमंत्री ने कहा कि 370 और 35ए से कश्मीर के लोगों को स्वतंत्र राज्य मिलेगा, ऐसी भ्रांति पाकिस्तान ने फैलाई और इस भ्रांति के आधार पर वहां के युवाओं को गुमराह किया, उनके हाथ में हथियार पकड़ाए और आतंकवाद की जम्मू कश्मीर में एन्ट्री हुई। 

भारत में आतंक फैलाने को लेकर पाकिस्तान को आड़े हाथों लेते हुए अमित शाह ने कहा कि पूरी दुनिया जानती है कि भारत में आतंक फैलाने का षड़यंत्र पाकिस्तान कर रहा है। अब पाकिस्तान पूरे देश में आतंकवाद फैलाने की कोशिश कर रहा है। 

उन्होंने आगे कहा कि संसद में विषयों की चर्चा होती है, संसद के बाहर भी होती है, मीडिया भी सबको समय देता है। किसी भी पार्टी को मैंने ये कहते नहीं सुना कि 370 क्यों जरूरी है। जो 370 को हटाने का विरोध कर रहे हैं, वो मीडिया के सामने आकर बताए कि 370 क्यों जरूरी है।

DO NOT MISS