Politics

‘वंदे मातरम’ विवाद पर बोले अमित शाह- हिंदुस्तान के हृदय ‘मध्यप्रदेश’ को तुष्टिकरण का केंद्र बनाती कांग्रेस सरकार...

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

मध्यप्रदेश में हर महीने के पहले कामकाजी दिन भोपाल स्थित मंत्रालय में राष्ट्रीय गीत "वंदे मातरम" गाने की 13 साल पुरानी परंपरा टूटने को लेकर अब बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस को आड़े हाथों लिया है. उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान के हृदय ‘मध्यप्रदेश’ मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार द्वारा राष्ट्रीय गीत ‘वंदे मातरम’ गाने पर प्रतिबन्ध लगाना अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण एवं शर्मनाक है.

दरअसल अमित शाह ने मंगलवार को ‘वंदे मातरम’ मुद्दे एक फेसबुक पोस्ट लिखते हुए कांग्रेस पर तुष्टिकरण की राजनीति करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार द्वारा राष्ट्रीय गीत ‘वंदे मातरम’ गाने पर प्रतिबन्ध लगाना अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण एवं शर्मनाक है .

उन्होंने ‘वंदे मातरम’ को मात्र एक गीत भर नहीं मानकर भारत की स्वतंत्रता आन्दोलन का प्रतीक बताते हुए कहा कि  ‘वंदे मातरम’ मात्र एक गीत भर नहीं होकर यह भारत की स्वतंत्रता आन्दोलन का प्रतीक एवं प्रत्येक भारतीय का प्रेरणाबिंदु है.  ‘वंदे मातरम’ में सम्पूर्ण भारत की रागात्मक अभिव्यक्ति समाहित है . ‘वंदे मातरम’ पर प्रतिबन्ध लगाकर कांग्रेस ने न सिर्फ देश की स्वाधीनता के लिए वंदे मातरम का जय घोष गाकर अपना सर्वस्व अर्पण करने वाले वीर बलिदानियों का अपमान किया है बल्कि यह मध्य प्रदेश की जनता के साथ भी विश्वासघात है .

अमित शाह ने कहा कि किसी भी प्रकार की राजनीतिक सोच में देश के बलिदानियों का अपमान करना मेरे जैसे एक आम भारतीय की द्रष्टि में देशद्रोह के समान है .

उन्होंने आगे कहा कि ‘वंदे मातरम’ किसी एक वर्ग विशेष का नहीं है बल्कि भारत की स्वतंत्रता के लिए अपने प्राण आहूत करने वाले लाखों सेनानियों के त्याग का प्रतीक हैं और केवल एक वर्ग विशेष को खुश करने के लिए इसका अपमान करना बहुत ही दुख:द, शर्मनाक एवं देश की स्वतंत्रता का अपमान भी है .

अमित शाह ने आगे राहुल गांधी से सवाल करते हुए कहा कि मैं कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गाँधी से पूछना चाहता हूँ कि ‘वंदे मातरम’ का यह अपमान क्या उनका निर्णय है? कांग्रेस सरकार के इस दुर्भाग्यपूर्ण निर्णय पर राहुल गाँधी को देश की जनता के सामने अपना पक्ष स्पष्ट करना चाहिए .

इससे पहले भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कांग्रेस की नई सरकार के मुख्यमंत्री कमलनाथ पर बुधवार को निशाना साधा. 

विजयवर्गीय ने संवाददाताओं से कहा, "कमलनाथ को स्पष्ट करना चाहिये कि उनकी सरकार इस अच्छी परंपरा को बदलना क्यों चाहती है. कहीं ऐसा तो नहीं है कि मुख्यमंत्री उन लोगों के दबाव में आ गये हैं, जो वंदे मातरम गाये जाने से अपनी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचने की बात करते रहे हैं." 

DO NOT MISS