Politics

1984 सिख दंगे के आरोपी रहे जगदीश टाइटलर को कांग्रेस में सम्मान मिलने पर भड़के सिरसा, किया तीखा वार

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

शिरोमणि अकाली दल के विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने बुधवार को हुए एक कार्यक्रम के दौरान 1984 सिख विरोधी दंगे के आरोपी जगदीश टाइटलर को पहली पंक्ति में बैठाने को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि ऐसा करके कांग्रेस ने सिख दंगों से जुड़े गवाहों को डराना चाहती है.

गौरतलब है कि शीला दीक्षित को दिल्ली प्रदेश कांग्रेस समिति का अध्यक्ष बनाए जाने को लेकर बुधवार को एक कार्यक्रम आयोजित हुआ था जिसमें टाइटलर को पहली पंक्ति में बैठाया गया.

सिरसा ने दावा किया कि कांग्रेस इस बात को लेकर भयभीत है कि सिख दंगों से जुड़े मामलों में टाइटलर और कमलनाथ को भी जेल भेजा जा सकता है.

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के महासचिव सिरसा ने कहा, ‘‘कांग्रेस ने जगदीश टाइटलर को पहली पंक्ति में जगह दी. ये सिख-विरोधी दंगों से जुड़े गवाहों को डराने का जानबूझ कर की गई कोशिश है.’’

विधायक ने आरोप लगाया, "कांग्रेस गवाहों को यह संदेश देना चाहती है कि पार्टी आलाकमान टाइटलर के साथ है और किसी को भी उनके खिलाफ गवाही देने की कोशिश तक नहीं करनी चाहिए."

मनजिंदर सिंह ने आरोप लगाया, "सज्जन कुमार को दोषी ठहराए जाने के बाद से ही पार्टी डरी हुई है कि..... अभी तक उसने जिन नेताओं को सुरक्षित रखा था अब उन्हें जेल में डाला जा रहा है. ऐसे काम करके वो न्यायपालिका और पुलिस को भी संदेश दे रही है कि किसी को भी उनके खिलाफ कार्रवाई शुरू नहीं करनी चाहिए."

उन्होंने कहा कि टाइटलर और कमलनाथ को बख्शा नहीं जाएगा और उन्हें पक्का जेल होगी.

शिअद नेता ने बाद में ट्वीट किया, ‘हम टाइटलर के साथ हैं... उनके खिलाफ गवाही देने की हिम्मत मत करना.’ जगदीश टाइटलर को पहली पंक्ति में जगह देकर कांग्रेस ने गवाहों को डराने के लिए यह स्पष्ट संदेश दिया है.

 

DO NOT MISS