Politics

#NationalApprovalRatings: गोवा में CM पर्रिकर पर जनता का विश्वास बरकरार, इतनी सीट जीतने का अनुमान

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

राजनीतिक पार्टियां लोकसभा चुनावों की तैयारियों में जुट गईं हैं. हाल ही में पांच राज्यों के साथ मध्यप्रदेश में चुनाव समपन्न हुए हैं. कांग्रेस ने यहां करीब 15 साल बाद सत्ता में वापसी की है. लिहाजा बीजेपी के लिए लोकसभा का चुनाव काफी चुनौतीपूर्ण रहेगा. वहीं रिपब्लिक टीवी और CVoter आपके सामने National Approval Ratings लेकर आए हैं ताकि आपको पता चल सके की अगर आज की तारीख में लोकसभा चुनाव होते हैं तो किस पार्टी को कितनी सीटें मिलेंगी? किस राज्य में किस पार्टी का बोलबाला रहेगा? 

बता दें गोवा से लोकसभा के लिए 2 सीटों पर चुनाव होना है. यहां मुख्य तौर पर कांग्रेस और बीजेपी के बीच में टक्कर है. 

किसको कितनी सीटें- 

National Approval Ratings के मुताबिक, मध्य प्रदेश में NDA को 2 सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया है. वहीं UPA के हाथ निराशा लग सकती हैं. हालांकि हाल में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजे कांग्रेस के पक्ष में थे.

वोट शेयर - 

National Approval Ratings के मुताबिक, UPA को लगभग 38.5 प्रतिशत वोट शेयर मिलने का अनुमान जताया गया है, वहीं NDA को 43.6 प्रतिशत वोट शेयर मिल सकता है. वहीं अन्य उम्मीदवारों को 14.3 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं. 


गोवा की 40 सदस्यीय विधानसभा में पर्रिकर सरकार के समर्थन में 23 विधायक हैं. इस सरकार को भाजपा के 14 विधायक, गोवा फॉरवर्ड पार्टी और महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी के तीन-तीन विधायक और तीन निर्दलीय समर्थन कर रहे हैं.

वहीं दूसरी तरफ पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र में स्थिति कुछ अलग ही बयां कर रही हैं. 

महाराष्ट्र में रिपब्लिक टीवी और सी वोटर के  National Aproval Rating के मुताबिक बीजेपी और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर है . नरेंद्र मोदी को यहां 38. 0 जनता और राहुल गांधी को 42.2 जनता पीएम उम्मीदवार के तौर पर पसंद करती है. महाराष्ट्र की 48 सीटों में एनडीए को 16 और यूपीए को 30 सीटें मिलने का अनुमान है . वहीं शिवशेना को 2 सीटें मिलने का अनुमान है. 

बता दें महाराष्ट्र राज्य में 48 लोकसभा सीटें हैं. बीजेपी, कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना के बीच सत्ता को लेकर मुकाबला है और राज्य में अभी तक 2019 के लिए कोई गठबंधन नहीं किया है, तो यह अनुमान हैं . 

कुल मिलाकर, साल 2014 में एनडीए गठबंधन को 48 सीटों में से 42 सीटें मिली थी जिसमें से शिवसेना के हिस्से में 18 सीट आई थी अब जब शिवसेना ने लोकसभा चुनाव में एनडीए गठबंधन से अलग लड़ने के ऐलान के बाद महाराष्ट्र में एनडीए के पास 22 सीटें रह गई हैं. 

DO NOT MISS