Politics

फैजाबाद का नाम बदलने को लेकर CM योगी पर बरसे AAP नेता संजय सिंह, फैसले को बताया 'तुगलकी फरमान'

Written By Gaurav Kumar | Mumbai | Published:

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में 'राम की पैड़ी' पर शानदार तरीके से दिवाली मनाई गई. इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कुछ महत्वपूर्ण घोषणाएं भी की. उन्होंने फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या करने की घोषणा की. इस खास आयोजन पर दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला किम जुंग सुक और वहां के प्रतिनिधिमंडल भी मौजूद रहे.

वहीं अब राजनीतिक दलों के नेताओं द्वारा योगी आदित्यनाथ के द्वारा फैजाबाद का नाम बदलने को लेकर तंज कसा जा रहा है. आम आदमी पार्टी के नेता और सांसद संजय सिंह ने CM योगी पर हमला बोला है. संजय सिंह ने योगी आदित्यनाथ को अपना नाम बदलने की सलाह दे दी है. संजय सिंह ने ट्वीट करते हुए लिखा,

'योगी जी को पहले अपना नाम बदलकर अजय सिंह बिष्ट रखना चाहिए, अयोध्या तो पहले से ही विधानसभा थी, शहर था फिर ये ड्रामा क्यों? रामपुर का नाम वहां के नबाब ने मुस्तफबाद रख दिया था लेकिन जनता आज तक रामपुर ही कहती है, ऐसे तुगलकी फरमानों से जनता का करोड़ों रुपया बर्बाद होता है.'

इसके साथ ही संजय सिंह ने एक अन्य ट्वीट करते हुए क्या 'अजय सिंह बिष्ट उर्फ योगी जी का नाम मोहम्मद रफी करने से वो शानदार गायक बन जायेंगे? ये कौन सी राजनीति है भाई?'

वहीं इस पूरे मामले पर शरद यादव ने भी ट्वीट करते हुए योगी आदित्यनाथ की आलोचना की है. शरद यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'फैजाबाद, शहरों, गलियों, सड़कों आदि के नाम बदलने से बीजेपी वाले यह समझ रहें हैं कि ठीक काम कर रहे हैं मगर आज नौजवान को नौकरी, किसान की आमदनी बड़ानी और विदेशों से ब्लैक मनी लाना यह सब नाम बदलने से नहीं होगा. मेरा मानना है कि शहरों आदि के नामों के पीछे कोई हिस्ट्री भी होती है.'


CM योगी के द्वारा की गई चार महत्वपूर्ण घोषणाएं -

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने फैजाबाद जिले का नाम बदलने की घोषणा की. उन्होंने कहा कि फैजाबाद अब अयोध्या के नाम से ही जाना जाएगा.
इसके साथ ही उन्होंने कहा कि 'राम की पैड़ी' को 'हर की पैड़ी' की तरह विकसित किया जाएगा.

उन्होंने अयोध्या में एयरपोर्ट के निर्माण का ऐलान करते हुए कहा कि हम यहां एयरपोर्ट का निर्माण कर रहे हैं. एयरपोर्ट का नाम मर्यादा पुरुषोत्तम राम पर होगा. इसके साथ ही योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में एक मेडिकल कॉलेज और अस्पताल का भी निर्माण करने की बात कही है. इन संस्थानों के नाम भगवान राम के पिता राजा दशरथ पर रखा जाएगा. 

DO NOT MISS