Law and Order

मुंबई पुलिस ने विनय दुबे को किया गिरफ्तार, सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डालने का आरोप

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

मुंबई पुलिस ने अपने सोशल मीडिया अकाउंटों पर उन संदेशों को पोस्ट करने के लिए एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, जिसके कारण मंगलवार को उपनगरीय बांद्रा में कथित तौर पर बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूरों का जमावड़ा लग गया था। 

पुलिस गिरफ्त में विनय दुबे 

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि पास के नवी मुंबई के निवासी विनय दुबे को बुधवार सुबह गिरफ्तार किया गया। उससे फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर उसके पोस्ट को लेकर पूछताछ की गई। अधिकारी ने बताया कि उसने सोशल मीडिया पर एक वीडियो अपलोड किया था जिसमें उसने मांग की थी कि महाराष्ट्र सरकार प्रवासियों के जाने की व्यवस्था करे, जो कोरोना वायरस के कारण लागू लॉकडाउन में फंसे हुए हैं और अपने मूल स्थानों पर वापस जाना चाहते हैं।

उन्होंने बताया कि उसने इस मुद्दे को लेकर ट्वीट भी किया था और धमकी दी थी कि प्रवासी मजदूरों को उनके मूल स्थानों पर ले जाने के लिए 18 अप्रैल तक रेलगाड़ियों की व्यवस्था अगर नहीं की गई तो देशव्यापी विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। दुबे को शुरू में नवी मुंबई पुलिस ने हिरासत में लिया और बाद में उसे उपनगरीय बांद्रा की पुलिस को सौंप दिया गया।

नवी मुंबई से किया गया गिरफ्तार

पुलिस अधिकारी ने बताया कि उसके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। अधिकारी ने बताया कि बांद्रा पुलिस स्टेशन में उससे पूछताछ की जा रही है। पुलिस को शक है कि उसके सोशल मीडिया संदेशों से मजदूरों का विरोध भड़का है। गौरतलब है कि मंगलवार दोपहर बाद बांद्रा रेलवे स्टेशन के पास 1,000 से अधिक प्रवासी मजदूर जमा हो गए, जिनमें से अधिकांश बिहार, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल के थे। 

वहीं इस घटना के बाद राजनीति शुरू हो गई थी। बीजेपी ने शिवसेना-NCP-कांग्रेस सरकार पर जमकर हमला बोला था। वहीं इस मुद्दे को गंभीरता से लेते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे से भी बात करके हालात की जानकारी ली थी। बता दें महाराष्ट्र में कोरोना मरीजों की संख्या में जबरदस्त इजाफा हो रहा है। ऐसे में केंद्र और राज्य सरकार सभी लोगों से लॉकडाउन का पालन करने की अपील कर रही है।