General News

Zomato से ऑर्डर लेकर पहुंचा मुस्लिम डिलीवरी ब्वॉय तो पंडित ने किया ऑर्डर कैंसिल, जोमैटो ने कहा - फूड का कोई धर्म नहीं है ये खुद में एक धर्म है।

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:


ऑनलाइन फुट वेबसाइट जोमेटो पर मध्यप्रदेश के पंडित अमित शुक्ल नाम के एक शख़्स ने खाना ऑर्डर किया और जब उन्हें मैसेज के जरिए पता चला कि एक मुस्लिम डिलीवरी ब्वॉय उनका खाना लेकर आ रहा है तो उन्होंने जोमेटो से डिलीवरी ब्वॉय बदलने को कहा। जोमेटो ने जब इससे मना कर दिया अमित शुक्ल ने ऑर्डर कैंसिल कर दिया और जेमोटो से रिफंड देने की मांग की । जोमेटो कंपनी ने रिफंड देने से भी इनकार कर दिया जिसके बाद दोनों के बीच सोशल मीडिया पर ही विवाद शुरू हो गया। 

कस्टमर अमित शुक्ल ने इस घटना क्रम को ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा कि , मैंने अभी तुरंत जोमेटो पर दिया अपना ऑर्डर कैंसिल कर दिया क्योंकि वो एक गैर हिंदू को मेरा खाना लेकर भेज रहे थे और साथ ही कंपनी ने डिलीवरी करने आ रहे युवक को भी बदलने से इनकार कर दिया।  मैं ने उनसे कहा कि वो मुझ पर इस तरह खाना लेने के लिए दबाव नहीं बना सकते हैं और मुझे रिफंड की कोई जरूरत नहीं है।

अमित शुक्ल ने स्क्रीन शॉर्ट शेयर की है उसमें दिख रहा कि जमोटो की तरफ से फैय्याज नाम के युवक ( डिलीवरी ब्वॉय) के जरिए उनके ऑर्डर को पूरी करने की जानकारी दी गई है। जैसे ही अमित ने अपने एप में यह जानकारी मिली कि उनका खान कोई गैर मुस्लिम युवक लेकर आ रहा है उन्होंने तुरंत जोमेटो से डिलीवरी ब्वॉय बदलने की मांग शुरू कर दी।

पंडित अमित शुक्ल के आरोप के बाद जमोटो ने  ट्वूट कर लिखा कि ''फूड का कोई धर्म नहीं है ये खुद में एक धर्म है। ''

अमित ने जोमेटो पर आरोप लगाया कि कंपनी मुस्लिम युवक से जबरदस्ती खाना डिलीवरी करवाने की के लिए दबाव बना रही है। अमित द्वारा शेयर किए गए व्हाट्स ऐप चैट में साफ दिख रहा है कि वह जोमेटो कंपनी से कह रहा है कि अभी हमारे लिए सावन चल रहा है और इसलिए हमें किसी मुस्लिम शख़्स से डिलीवरी की कोई जरूरत नहीं है। इसके नीचे की चैट में जोमेटो कंपनी की तरफ से जो जवाब आया है उसमें कंपनी कह रही है कि अगर वो ऑर्डर कैंसिल करते हैं तो उन्हें कैंसिलेशन चार्ज के तौर पर 237 रुपये देने होंगे।

 

 

DO NOT MISS