General News

मोदी के विमान को लेकर पाक की मनाही पर आईसीएओ ने कहा, राजकीय विमान उसके दायरे में नहीं

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

अंतरराष्ट्रीय नागर विमानन संगठन (आईसीएओ) ने कहा है कि राष्ट्रीय नेताओं को ले जाने वाली उड़ानों को “राजकीय विमान” माना जाता है और ये प्रावधानों के दायरे में नहीं आतीं।

आईसीएओ ने सऊदी अरब जाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विमान को पाकिस्तानी हवाई क्षेत्र से नहीं गुजरने देने के खिलाफ दर्ज भारत की शिकायत पर यह जवाब दिया है।

आईसीएओ के प्रवक्ता ने कहा, “अंतरराष्ट्रीय नागर विमानन समझौता (शिकागो समझौता) केवल नागर विमानन के परिचालन पर लागू होता है और राजकीय या सैन्य विमानों पर नहीं।”

प्रवक्ता ने कहा, “राष्ट्रीय नेताओं को ले जाने वाले विमानों को राजकीय विमान माना जाता है और इसलिए वे आईसीएओ के प्रावधानों के दायरे में नहीं आते।”

आईसीएओ संयुक्त राष्ट्र की एक विशेष एजेंसी है और इसका मुख्य कार्य अंतरराष्ट्रीय नागर विमानन समझौते के प्रशासन एवं संचालन को देखना है।

भारत ने प्रधानमंत्री के विमान को अपने हवाई क्षेत्र से गुजरने देने से पाकिस्तान के इनकार का मुद्दा आईसीएओ के समक्ष उठाया था। नरेंद्र मोदी के सऊदी अरब के दौरे से पहले सरकारी सूत्रों ने यह जानकारी दी थी।

भारत ने प्रधानमंत्री के विमान को सोमवार को सऊदी अरब जाने के लिए पाकिस्तान से उसके हवाई क्षेत्र के प्रयोग की अनुमति मांगी थी लेकिन उसने जम्मू-कश्मीर में कथित मानवाधिकार उल्लंघन का हवाला देकर अनुरोध मानने से इनकार कर दिया।

सूत्रों ने बताया कि भारत ने वीवीआईपी विशेष विमान को फिर से मंजूरी नहीं देने के पाकिस्तान के फैसले पर खेद जताया है।

सूत्र ने बताया, ‘‘आईसीएओ के निर्धारित दिशा-निर्देशों के अनुसार, अन्य देशों द्वारा अपने उड़ानों के लिए दूसरे देशों से अपने हवाई क्षेत्र के इस्तेमाल करने देने की मंजूरी मांगी जाती है और उन्हें मंजूरी दी जाती है।’’ सूत्रों ने बताया कि भारत आगे भी इस तरह की मंजूरी मांगता रहेगा।

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में मानवाधिकारों के कथित उल्लंघन का हवाला देते हुए, पाकिस्तान ने रविवार को मोदी के विमान को सऊदी अरब की यात्रा के लिए अपने हवाई क्षेत्र से गुजरने देने के भारत के अनुरोध को स्वीकार करने से मना कर दिया था।

सरकार द्वारा संचालित ‘रेडियो पाकिस्तान’ के मुताबिक, विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने एक बयान में कहा कि पाकिस्तान ने प्रधानमंत्री मोदी को देश के हवाई क्षेत्र का उपयोग करने की अनुमति नहीं देने का फैसला किया है।
 

DO NOT MISS