General News

Exclusive| योग गुरु स्वामी रामदेव ने अर्नब से की 'रामराज की बात'

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:


अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने अपना ऐतिहासिक फैसला सुना दिया है। इस फैसले के बाद रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के एडिटर इन चिफ अर्नब से योग गुरु बाबा रामदेव ने एक्सक्लूसिव बातचीत की। 'पूछता है भारत' कार्यक्रम में शरिक हुए बाबा रामदेव ने तमाम सवालों का बेबाकी से जवाब दिया।

अयोध्या फैसले पर बाबा रामदेव ने कहा जिनकी राम में भक्ति है उन्होंने इसके लिए बहुत कुछ कुर्बान कर दिया। कोर्ट ने फासले दूर किए और सत्य के आधार पर न्याय हुआ है।  उन्होंने कहा राम एक व्यक्ति नहीं है, वह एक चरित्र हैं। 

अयोध्या विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर असदुद्दीन औवेसी के बायन पर बोलते हुए बाबा रामदेव ने कहा कि अतीत के संघर्षों को याद करोगे तो कभी एक होकर नहीं जी सकते, हम मित्र बन कर रह सकते हैं।

उन्होंने औवेसी को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि देश के अंदर वह नफरत और घृणा की राजनीति करते हैं। औवेसी देश को बांटने वाला सरगना है। 


बाबा ने कहा मैं व्यक्तिगत तौर पर ओवैसी से नफरत नहीं करता लेकिन उनकी सोच, शब्द और कर्म खराब है। वह मुस्लिमों का प्रतिनिधि नहीं है।

 

वहीं अयोध्या फैसले के बाद नेशनल हेराल्ड अखबार में छपे लेख को लेकर बाबा रामदेव ने कहा कि कांग्रेस ने यदि यह पाप नहीं किया होता तो वह आज साफ नहीं हुआ होता। जनता ने कांग्रेस को पहचान लिया है। 

राम राज को लेकर बाबा ने अपनी राय़ रखते हुए कहा कि राम राज्य का मतलब न्याय, समानता, प्रेम और समृद्धी का राज है।

वहीं हिन्दू तालिबान' शब्द का प्रयोग किए जाने पर बाबा ने कहा पतंजलि योगपीठ में 20 प्रतिशत मुसलमान काम करते हैं, हमारे यहां उन्हें रसोई घर, ध्यान केंद्र, कार्यस्थल पर एक समान दृष्टि से देखा जाता है।

इससे परे रिपब्लिक टीवी के स्पेशन शो में योग गुरु बाबा रामदेव ने स्वस्थ रहने के लिए कुछ योग बताए। इस दौरान  रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के एडिटर इन चिफ अर्नब गोस्वामी ने योग गुरु बाबा रामदेव से योग क्लॉस ली।

 

DO NOT MISS