General News

"जांच से पहले कार्रवाई क्यों?": CAA हिंसा पर 'दंगाइयों' के समर्थन में उतरी प्रियंका गांधी

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

नागरिकता कानून के खिलाफ कांग्रेस ने लगातार मोर्चा खोल रखा है, इस मुद्दे के बहाने कांग्रेस जमकर सियासत कर रही है। सोनिया गांधी, राहुल गांधी, प्रियंका गांधी से लेकर कांग्रेस के कई दिग्गज जमकर सरकार पर निशाना साध रहे हैं लेकिन एक बार फिर दंगाईयों के कथित समर्थन को लेकर कांग्रेस पार्टी सवालों के घेरे में आई गई। 

दरअसल कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने आज यानि सोमवार को लखनऊ में नागरिकता कानून के बहाने यूपी सरकार पर हमला बोला और दंगाइयों का कथित समर्थन करते हुए पुलिस की कार्रवाई को बदला लेने वाला बताया। यही नहीं प्रियंका गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस का एक दल राज्यपाल से भी मांगा। 

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा, "हिंसा किसने शुरू की, इसकी जांच होनी चाहिए, क्योंकि कौन जानता है कि आगजनी किसने शुरू की। आप बिना जांच के कैसे कार्रवाई कर सकते हैं? पहले यह पता करें कि हिंसा किसने शुरू की?"

इतना ही नहीं जिस कानून के साथ पूरा देश खड़ा है, जिस कानून को संसद से पास किया गया, मुस्लिम साफ साफ कह रहे हैं कि नागरिकता कानून के नाम पर झूठ फैलाया जा रहा है 
आज प्रधानमंत्री मोदी ने नागरिकता कानून के समर्थन में एक कैंपेन भी चलाया है। 

पीएम ने ट्वीट कर साफ कहा कि नागरिकता कानून का समर्थन किया जाय, और दंगाइयों को सही नहीं ठहराया जा सकता है लेकिन वाड्रा कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी को सुनिए वो इस कानून को संविधान के खिलाफ बता रही हैं। 

 

प्रियंका गांधी की सुरक्षा में कोई चूक नहीं हुई : सीआरपीएफ

सीआरपीएफ ने सोमवार को कहा कि कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा के लखनऊ के हालिया दौरे के दौरान उनकी सुरक्षा को लेकर कोई चूक नहीं हुई। साथ ही बल ने प्रियंका गांधी पर स्कूटर पर पीछे बैठकर यात्रा कर, सुरक्षा मानकों का उल्लंघन करने का आरोप लगाया।

प्रियंका गांधी को मिली ‘जेड प्लस’ सुरक्षा घेरे के तहत उन्हें सशस्त्र कमांडो मुहैया कराने वाले बल ने एक बयान में कहा कि कांग्रेस नेता ने बिना पूर्व सूचना दिए यात्रा की इसलिए सुरक्षा के इंतजाम पहले से नहीं किए जा सके। बयान में कहा गया है, ‘‘यात्रा के दौरान उन्होंने बिना निजी सुरक्षा अधिकारी के, उस असैन्य वाहन का इस्तेमाल किया जो बुलेट रोधी नहीं था।’’ इस बयान के अनुसार, प्रियंका ने स्कूटी पर लिफ्ट ली, वह स्कूटी पर पीछे बैठ कर चली गईं।

DO NOT MISS