General News

हमें उम्मीद है कि पाकिस्तान जाधव पर ICJ के फैसले को तुरंत लागू करेगा : विदेश मंत्रालय

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:


भारत ने बुधवार को अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत(आईसीजे) के फैसले का स्वागत किया, जिसमें पाकिस्तान को भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव की मौत की सजा की समीक्षा करने और उन्हें राजनयिक पहुंच प्रदान करने के लिए कहा गया है।

विदेश मंत्रालय ने कहा कि यह ‘‘ऐतिहासिक फैसला’’ मामले पर भारत के रूख को मान्य ठहराता है। भारत ने पाकिस्तान से आईसीजे के फैसले को तुरंत लागू करने को कहा है। 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि हम कुलभूषण जाधव की जल्द रिहाई और भारत वापसी के लिए जोर-शोर से काम करना जारी रखेंगे।

कुमार ने कहा, ‘‘हम कुलभूषण जाधव से संबंधित मामले में द हेग में अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत द्वारा भारत के पक्ष में सुनाए गए फैसले का स्वागत करते हैं। ’’ 

अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत (आईसीजे) ने बुधवार को फैसला सुनाया कि पाकिस्तान को भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को सुनाई गयी फांसी की सजा पर फिर से विचार करना चाहिए। इसे भारत के लिए बड़ी जीत माना जा रहा है।

भारतीय नौसेना के सेवानिवृत्त अधिकारी जाधव (49) को पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने अप्रैल 2017 में जासूसी और आतंकवाद के आरोपों पर फांसी की सजा सुनाई थी। इस पर भारत में काफी गुस्सा देखने को मिला था।

उन्होंने कहा, ‘‘हमने गौर किया है, अदालत ने निर्देश दिया है कि पाकिस्तान का कर्तव्य है कि वियना समझौते के अनुसार जाधव को उनके अधिकारों के बारे में बिना किसी देरी के अवगत कराए और भारतीय राजनयिक पहुंच प्रदान करे।’’ 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि हमें उम्मीद है कि पाकिस्तान तुरंत निर्देश लागू करेगा। उन्होंने कहा, ‘‘यह ऐतिहासिक फैसला इस मामले में पूरी तरह भारत के रूख को वैध ठहराता है ’’ 

यह भी पढ़े- पीएम मोदी ने कुलभूषण जाधव मामले में ICJ के फैसले का किया स्वागत, कहा- 'हर भारतीय को बचाएंगे' 

(इनपुट-भाषा से )

DO NOT MISS