General News

PM मोदी के संबोधन के दौरान हताश पाक पीएम इमरान खान माइक्रोफोन पर फुसफुसाते नजर आए-VIDEO

Written By Amit Bajpayee | Mumbai | Published:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को किर्गिस्तान के बिश्केक में आयोजित शंघाई कोऑपरेशन काउंसिल की बैठक के दूसरे दिन आतंकवाद का मुद्दा दुनिया के सामने उठाया। पीएम मोदी ने कहा कि सभी देशों को आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई करने के लिए साथ में आना होगा और इसका सफाया करना होगा।  प्रधानमंत्री मोदी जब SCO के मंच पर आतंकवाद को लताड़ रहे थे तब वहां मौजूद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान हताश और निराश दिखाई दिए। वह इतना घबरा गए कि पीएम मोदी के संबोधिन के दौरान एयरफोन पर बात करते हुए नजर आए।  

दरअसल, पीएम मोदी SCO के मंच से सदस्य देशों को स्वास्थ मंत्र दे रहे थे। इस दौरान इमरान खान को माइक्रोफोन पर बातचीत करते हुए देखा गया है। 


बता दें पीएम मोदी ने इस दौरान सभी SCO सदस्यों से अपील की है कि हमें आतंकवाद के मुद्दे पर एकजुट होना होगा और आतंकवाद के मुद्दे पर ही अंतरराष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस को बुलाना होगा. PM मोदी इस बात का जिक्र श्रीलंका और मालदीव के दौरे पर भी किया था। उन्होंने कहा कि आतंकवाद को समर्थन, वित्त प्रदान करने वाले देशों को जिम्मेदार ठहराना जरूरी है। भारत आतंकवाद से निपटने के लिए एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आह्वान करता है। 

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में पाकिस्तान का नाम लिए बिना उसे आतंकवाद के मुद्दे पर घेरा और इमरान खान को कड़ा संदेश दिया। उन्होंने कहा कि ''पिछले दिनों श्रीलंका दौरे पर मुझे आतंकवाद के घिनौने चेहरे का स्मरण हुआ। वह आतंक जो कहीं भी प्रकट होकर मासूमों की जान ले लेता है। इस खतरे से निपटने के लिए सभी मानवतावादी ताकतों को अपने संकीर्ण दायरे से निकलकर एकजुट हो जाना चाहिए।''

यह भी VIDEO देखें - SCO Summit में पैर पर पैर चढ़ा कर बैठे रहे पाक पीएम इमरान खान जबकि दुनिया भर के नेता शिष्टाचार के तहत खड़े रहे

उन्होंने कहा ''आतंकवाद को समर्थन और वित्त प्रदान करने वाले देशों को जिम्मेदार ठहराना जरूरी है। एससीओ अधिकारों के तहत सभी देशों को आतंक के खिलाफ लड़ाई में सहयोग करना चाहिए। भारत आतंकवाद से निपटने के लिए एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आह्वान करता है।''

यह भी पढ़े- आतंकवाद को प्रायोजित कर रहे देशों को जवाबदेह ठहराया जाए : PM मोदी ने एससीओ में कहा

DO NOT MISS