General News

बंगाल में अमित शाह की रैली के बाद कार्यकर्ताओं पर हमला, बीजेपी ने कहा - यह ममता बनर्जी का असली चेहरा

Written By Amit Bajpayee | Mumbai | Published:

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के पश्चिम बंगाल में पूर्व मेदिनीपुरा जिला में एक रैली से लौट रहे कार्यकर्ताओं पर हमला किया गया। बीजेपी कार्यकर्ता जिन वाहनों से वापस लौट रहे थे उनमें तोड़फोड़ की गई। जिसके चलते पांच बीजेपी कार्यकर्ताओं के जख़्मी होने की सूचना हैं।

जानकारी के अनुसार , मंगलवार की शाम अमित शाह की सभा से लौटने के बाद टीएमसी समर्थकों ने भाजपा कार्यकर्ताओं के वाहनों को निशाना बनाना शुरू कर दिया। जिसमें कई महिलाए और पुरुष कार्यकर्ता मौजूद थे। इस घटना से कई वाहन क्षतिग्रस्त हुए और पांच बीजेपी कार्यकर्ताओं को चोटें आई । वहीं एक स्थान पर बाइक को आग के हवाले कर दिया।

इस घटना पर कड़ा रुख अखतिहार करते हुए बीजेपी बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने ममता सरकार पर जमकर हमला बोला।

पात्रा ने कहा जिस प्रकार से बंगाल में आगजनी चल रही है बंगाल में जिस प्रकार से ममता बनर्जी द्वारा आतंक सड़को पर उतार दिया गया है। वह हम सब देख सकते है। घटना की निंदा करते हुए बीजेपी ने कहा बंगाल में लोकतंत्र की हत्या हो रही है।

पात्रा ने कहा रैली में लाखों की संख्या में लोग बीजेपी अध्यक्ष को सुनने आएं। मगर यह बहुत आश्चर्य के साथ और दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि जिन बसों में बीजेपी कार्यकर्ता आएं। उन बसों को नेस्तनाबूद और उनको तोड़ने और उनको जलाने कि कोशिश की गई। टीएमसी के गुंडे सड़क पर उतर कर खुले आम पत्थर बाजी कर रहे हैं। पुलिस देख रही है सड़को  पर आग लगया जा रहा बसें धू- धू करके जल रही है। और बसों में से कार्यकर्ताओं को निकाल कर पिटा जा रहा है। यह दिखाता कि बंगाल में परिस्थिति किस प्रकार की है ।

संबित ने कहा यह ममता बनर्जी का असली चेहरा है। आप का बंगाल में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का न रैली होने देंगे। न आप यात्रा निकालने देंगे और न ही पंचायत राज्य चुनाव में नोमिनेशन फाइल होनें देगें। क्या यहीं लोकतंत्र है ?

आप कोलकत्ता में सभी पार्टियां इकट्टा होकर हाथ उठा कर कहते हैं कि लोकतंत्र बचाना होगा। हम बीजेपी के खिलाफ गठबंधन बना कर लडे़ंगे । 2019 में इस प्रकार से लोकतंत्र को आप बचाएंगे। रैली में आग लगाएंगे । साधारण लोगों के ऊपर अटैक करेंगे। बसों को जालाएंगे। लोगों को मौत के घाट उतारेंगे। तो उसे देख कर लगता है टीएमसी का मतलब ''तालिबानी ममता कर्मों'' । आप तालिबानी दीदी की तरह व्यवहार कर रही हैं। आप सीबीआई को ईडी को बंगाल में घुसने नहीं देंगे। वहां अगर आर्मी किसी प्रकार का ऐक्साइज करती है तो आप उसे अपने खिलाफ षड्यंत्र बताती हैं। मालदा में दंगे हो रहें तो आप बीएसएफ के ऊपर उंगली उठाते हैं। वहां अगर पाकिस्तान के खिलाफ कोई प्रेसकॉन्फ्रेंस होता है तो आप उसे रुकवा देती है। ताकि पाकिस्तान नाराज हो जाएगा।

वहीं इस प्रतिक्रिया देते हुए TMC नेता  मदन मित्रा ने कहा कि बीजेपी वालों गुंडे हायर कर रखे हैं। वे ऐसा इसलिए कर रहे हैं। क्योंकि उनके पास कोई और मुद्दा नहीं है।

 

DO NOT MISS