General News

मोदी सरकार ने 100 दिन में किये जनहित के ऐतिहासिक काम : प्रकाश जावड़ेकर

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने रविवार को मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के शुरुआती सौ दिनों के दौरान किये महत्वपूर्ण कामों का लेखाजोखा पेश करते हुये दावा किया है कि जनहित के जो काम इस सरकार ने किये है, इससे पहले शायद किसी सरकार ने ऐसे काम नहीं किये हैं।

जावड़ेकर ने संवाददाताओं को बताया कि मोदी सरकार के सौ दिनों के कामों ने देश के नागरिकों को अधिकार संपन्न बनाया है, देश के विकास में लोगों की भागीदारी बढ़ी है, साथ ही व्यवस्था में भी पारदर्शिता आयी है।

जावड़ेकर ने जम्मू कश्मीर से संविधान का अनुच्छेद 370 निष्प्रभावी घोषित करने और तीन तलाक की कुप्रथा को अपराध घोषित करने को सौ दिनों के शुरुआती कार्यकाल के सबसे अहम और साहसिक फैसले बताया।

उन्होंने कहा का सबसे बड़ा फैसला आर्टिकल 370 , आर्टिकल 35 ए और जम्मू-कश्मीर और लद्दाक को अगल-अलग केंद्र शासित प्रदेश बनाने को लेकर हुआ। आज 35 दिन हो गये है और सिर्फ कुछ छोटी - मोटी घटनाएं हुई हैं वहा हालात सामान्य हो रहे हैं।

जावेड़कर ने कहा कि आर्टिकल 370 को रद्द करने के फैसले का एक महत्वपूर्ण पहलू यह है कि पाकिस्तान ने संयुक्त राष्ट्र संघ सहित कई दरवाजे खटखटाए, लेकिन पूरी दुनिया भारत के साथ खड़ी रही।   


उन्होंने कहा कि इस दौरान किये गये तमाम फैसलों की तैयारी लोकसभा चुनाव से पहले ही कर ली गयी थी। इसमें देश की अर्थव्यवस्था को पांच खरब अमेरिकी डालर के स्तर तक ले जाने के लक्ष्य को भी पूरा करने की कार्ययोजना भी शामिल है जिसे सरकार ने लागू करने का रोडमैप पिछले कार्यकाल में ही तय कर लिया था।

उन्होंने कहा कभी-कभी स्लो डाउन आता है लेकिन अर्थव्यवस्था की बुनियाद बहुत मजबूत है। एफडीआई में रिकॉर्ड स्तर पर आता है। मोटर विहिकल एक्ट पर हो रही है चर्चा पर उन्होंने कहा यह बहुत बड़ा सुधार है। रह साल डेढ़ लाख लोगों की जान बचाने के लिए एक्ट बना है। यह सबकी भलाई के लिए है और कानूना का पालन तो करना होगा। 

यह भी पढ़े - मोदी सरकार राष्ट्रीय सुरक्षा, विकास का पर्याय है : अमित शाह

यह भी पढ़े - अर्थव्यवस्था पर मनमोहन सिंह के आरोपों पर बोले प्रकाश जावड़ेकर, 'उनके विश्लेषण से हम नहीं रखते इत्तेफाक'

DO NOT MISS