General News

चुनाव जीतने के लिए मंदिर-मंदिर घूमते हैं, यह पता नहीं मंदिर में बैठते कैसे हैं : राजनाथ सिंह

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का नाम लिये बिना मंगलवार को उन पर निशाना साधते हुए कहा कि चुनाव जीतने के लिये ये मंदिर-मंदिर घूमते हैं, लेकिन यह नहीं पता कि मंदिर में कैसे बैठना है.

सिंह ने बुरहानपुर में भाजपा के समर्थन में एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा, ‘‘यह विडंबना है कि कांग्रेस जाति, मजहब के नाम पर समाज की भावनाओं को प्रभावित करके वोट हासिल करना चाहती है जबकि राजनीति इंसाफ और इंसानियत के नाम पर होनी चाहिए.’’

उन्होंने राहुल गांधी का नाम लिए बिना कहा कि चुनाव जीतने के लिए ये मंदिर-मंदिर घूमते हैं. इन्हें यह नहीं पता कि मंदिर में कैसे बैठना है. कभी घुटने के बल बैठते हैं, तो कभी खड़े हो जाते हैं. उन्होंने कहा कि जो लोग आज मंदिर के चक्कर लगा रहे हैं, वे पहले कहां थे. उन्होंने सवाल किया अब आप लोगों को भगवान पर भरोसा कैसे हो गया. ऐसे लोगों को मंदिर दौड़ शुरू करने से कामयाबी हासिल नहीं होगी.

यह भी पढे़ं - VIDEO: कश्मीर पर अफरीदी के बयान पर राजनाथ सिंह ने ली चुटकी, बोले- बात तो ठीक कही है उन्होंने..

सिंह ने कहा कि भाजपा ने तो प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान को मुख्यमंत्री पद का चेहरा घोषित कर दिया, लेकिन कांग्रेस में मुख्यमंत्री कौन होगा, यह अभी तक रहस्य है. कांग्रेस की बारात तो सज गयी है, लेकिन दूल्हे का पता नहीं है.

उन्होंने कहा कि आपने टेलीविजन पर ‘कौन बनेगा करोड़पति’ देखा होगा, लेकिन मध्यप्रदेश में कांग्रेस जनता को ‘कौन बनेगा मुख्यमंत्री’ का खेल दिखा रही है. कोई गुना से, तो कोई छिंदवाड़ा से, उसके सभी नेता मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता सब अलग-थलग हैं और मध्यप्रदेश को जोड़ने की बात करते हैं. यह आश्चर्य की बात है कि जो स्वयं एकजुट नहीं हैं, वे समाज का भला कैसे करेंगे.

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश और राजस्थान के क्रमश: 230 और 200 सदस्यीय विधानसभा में पार्टी ने 2013 के चुनाव में क्रमश: 165 और 163 सीटों पर जीत हासिल की थी . मध्य प्रदेश की 230 विधानसभा सीटों पर एक ही चरण में 29 नवंबर को मतदान होना है और 11 दिसंबर को बाकि चार राज्यों के साथ चुनाव परिणाम आना है. 

(इनपुट- भाषा)

DO NOT MISS