PTI/ सांकेतिक तस्वीर
PTI/ सांकेतिक तस्वीर

General News

हमारी पीड़ा समझें, संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन ना करें : पाकिस्तानी हिन्दू

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

राष्ट्रीय राजधानी के विभिन्न हिस्सों में रह रहे पाकिस्तानी हिन्दुओं ने मंगलवार को लोगों से अपील की कि वे ‘‘उनकी पीड़ा को समझें’’ और संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन ना करें।

संसद में संशोधित नागरिकता विधेयक पारित होने के बाद अपनी एक महीने की पोती का नाम ‘नागरिकता’ रखने वाली मीरा दास (40) का कहना है, ‘‘हम अपना घर, जमीन सब पीछे छोड़ आए हैं... सबकुछ पाकिस्तान में है। अब यही हमारा घर है। अगर आप हमें स्वीकार नहीं करेंगे तो हम कहां जाएंगे? कृपया हमारी पीड़ा को समझें और हमारे घावों को भरने वाले (कानून) के खिलाफ प्रदर्शन ना करें।’’

पाकिस्तान के हैदराबाद से 2011 में दिल्ली आयीं सोना दास (42) ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हमने जो तकलीफें झेली हैं, अगर आप उससे गुजरे होते तो आप कभी प्रदर्शन नहीं करते। यह कानून हमारे लिए आशा की नयी किरण है।’’ वहीं संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के विरोध में देश के विभिन्न हिस्सों में जारी प्रदर्शनों के बीच गुजरात में जगह-जगह सीएए के समर्थन में रैलियां निकाली जा रही हैं।

मंगलवार को राज्य के सभी 33 जिलों में नए कानून के समर्थन में रैलियां निकाली जा रही हैं और गुजरात भाजपा नेता तथा सरकारी अधिकारी इनमें हिस्सा ले रहे हैं। इन रैलियों और प्रदर्शनों का आयोजन आरएसएस की मदद से नागरिक समितियां कर रही हैं।

सूरत में, गुजरात के वन मंत्री गणपत वसावा और क्षेत्र के निवासियों ने जिलाधिकारी कार्यालय के निकट प्रदर्शन में हिस्सा लिया और संशोधित नागरिकता कानून का समर्थन किया।

सूरत की सांसद दर्शना जरदोश और स्थानीय विधायक पुर्नेश मोदी तथा विवेक पटेल ने भी नए कानून के समर्थन में प्रदर्शन में हिस्सा लिया।

पुर्नेश मोदी ने कहा, ‘‘सीएए देश और नागरिकों के हित में है। विपक्षी कांग्रेस तथ्यों को तोड़-मरोड़कर पेश कर रही है और लोगों को गुमराह कर रही है। इस मिथ्या प्रचार के विरोध में नागरिक समिति ने यह बड़ी रैली निकाली है। आप देख सकते हैं कि नए कानून के समर्थन में यहां बड़ी संख्या में लोग आए हैं।’’

पार्टी ने एक विज्ञप्ति में बताया कि मंगलवार को 33 जिलों में आयोजित होने वाले इस तरह के अन्य कार्यक्रमों में गुजरात भाजपा के कई नेता शामिल होंगे।

मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और राज्य के गृह मंत्री प्रदीप सिंह जडेजा आज शाम अहमदाबाद के साबरमती आश्रम में होने वाली रैली में शामिल होंगे।