General News

यूएई ने प्रधानमंत्री मोदी को जायद मेडल से सम्मानित किये जाने की घोषणा की

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने गुरुवार को घोषणा की कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को द्विपक्षीय संबंधों को ‘‘ बढ़ावा’’ देने में ‘महत्वपूर्ण भूमिका’ निभाने के लिए प्रतिष्ठित जायद मेडल से सम्मानित किया जायेगा।

यूएई के राष्ट्रपति शेख खलीफा बिन जायद अल नाहयान ने राजाओं, राष्ट्रपतियों और राष्ट्राध्यक्षों को दिये जाने वाले इस सर्वोच्च सम्मान से प्रधानमंत्री मोदी को सम्मानित किये जाने की घोषणा की।

अबुधाबी के युवराज मोहम्मद बिन जायद ने ट्वीट किया, “भारत से हमारे ऐतिहासिक और व्यापक रणनीतिक रिश्ते हैं, जिन्हें हमारे प्रिय मित्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने और बढ़ावा दिया है। उनके प्रयासों की सराहना करते हुए यूएई के राष्ट्रपति ने उन्हें जायद मेडल प्रदान करने की घोषणा की है।” 

उन्होंने कहा, ‘‘हमारे प्रिय मित्र भारतीय प्रधानमंत्री को जायद मेडल देकर हमने विभिन्न क्षेत्रों में यूएई और भारत के बीच मैत्री संबंध बनाने और संयुक्त रणनीतिक सहयोग को और बढ़ाने में उनकी (मोदी) भूमिका के प्रति सम्मान जाहिर किया है।’’ 

खलीज टाइम्स की खबर के मुताबिक दीर्घकालिक मैत्री और दोनों देशों के बीच संयुक्त रणनीतिक सहयोग को और मजबूती देने में मोदी की भूमिका की सराहना के तौर पर यह सम्मान दिया गया है। भारत ने मोदी को शीर्ष सम्मान दिये जाने की यूएई की घोषणा का स्वागत किया। 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि भारत ने मोदी को दिये सम्मान की बहुत प्रशंसा की है। कुमार ने कहा, ‘‘यह अद्वितीय सम्मान भारत और यूएई के बीच रणनीतिक साझेदारी को विकसित करने के लिए प्रधानमंत्री के नेतृत्व में सरकार के प्रयासों को स्वीकृति है।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘हम युवराज मोहम्मद बिन जायद और यूएई की सरकार द्वारा प्रधानमंत्री को यह सम्मान दिये जाने के कदम की सराहना करते हैं।’’ 

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया, ‘‘मोहम्मद बिन जायद द्वारा भारत के महान सपूत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को जायद मेडल दिये जाने की घोषणा का स्वागत करते हुए मैं बेहद खुश हूं।’’ 

उन्होंने कहा कि यूएई के साथ रणनीतिक साझेदारी के नए युग और इस्लामिक दुनिया के साथ ‘‘सबसे अच्छे’’ संबंधों की शुरुआत करने में उनकी ‘‘प्रभावी भूमिका’’ को मान्यता देने के लिए मोदी को यह प्रतिष्ठित पुरस्कार दिया गया।

मोदी ने पिछले वर्ष फरवरी में प्रधानमंत्री के रूप में दूसरी बार यूएई का दौरा किया था और युवराज के साथ विस्तृत चर्चा की थी। इस चर्चा के बाद दोनों पक्षों ने ऊर्जा क्षेत्र, रेलवे, श्रमशक्ति और वित्तीय सेवाओं से संबंधित पांच समझौतों पर हस्ताक्षर किये थे। प्रधानमंत्री ने अगस्त 2015 में यूएई की पहली यात्रा की थी।

( इनपुट-भाषा से )

DO NOT MISS