General News

सबरीमाला विवाद : तृप्ति देसाई ने बदला इरादा, आज रात की फ्लाइट से वापस जाएंगी मुंबई

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

सबरीमाला मंदिर में प्रवेश को लेकर सामाजिक कार्यकर्ता और भूमाता ब्रिगेड की अध्यक्ष तृप्ति देसाई ने कोच्चि इंटरनेशनल एयरपोर्ट से मुंबई वापस जाने का फैसला कर लिया है. रिपब्लिक टीवी की जानकारी के मुताबिक तृप्ति देसाई रात 9:30 बजे की फ्लाइट से मुंबई वापस जाएंगी.

दरअसल  तृप्ति देसाई सुबह साढ़े 4 बजे ही कोच्चि इंटरनेशनल एयरपोर्ट पहुंच गई थीं. लेकिन वो प्रदर्शनकारियों के विरोध के चलते वो एयरपोर्ट से बाहर नहीं निकल पाईं. तृप्ति देसाई और उनकी सहयोगी सबरीमाला मंदिर में प्रवेश करने के लिए वहां पर पहुंची थीं. कोच्चि एयरपोर्ट के बाहर सुबह से ही भारी तादाद में प्रदर्शनकारी मौजूद हैं. तृप्ति देसाई के वापस जाने के फैसले के बाद एयरपोर्ट के बाहर मौजूद प्रदर्शनकारी उत्साह मना रहे हैं. 

बता दें, इस बीच रिपब्लिक टीवी से बात करते हुए तृप्ति और राहुल ने अपना अपना पक्ष रखा था. जिस दौरान तृप्ति ने बोला था, ''प्रदर्शनकारी हमें एयरपोर्ट के बाहर नहीं निकलने दे रहे हैं. टैक्सी नहीं लेने दे रहे हैं. साथ ही धमकियां भी दे रहे हैं. अगर हम रुकने के लिए होटल बुक कर रहे हैं तो होटल वालों को धमकियां दी जा रही है कि वो वहां पर अटैक करेंगे. ये बिल्कुल गलत तरीका है. इसके अलावा पुलिस ने भी ये बात कही है कि अग हम बाहर निकलेंगे तो हमारे ऊपर अटैक भी हो सकता है.''

दरअसल सबरीमाला मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद प्रदर्शन का दौर शुरू हो गया था. कई अन्य हिंदू संगठनों ने सबरीमाला मंदिर में सभी आयु की महिलाओं को प्रवेश देने के सर्वोच्च न्यायालय के आदेश के खिलाफ प्रदर्शन शुरू कर दिया था. 

28 सितंबर को सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए केरल के सबरीमाला मंदिर में महिलाओं को प्रवेश की अनुमति दे दी थी. 4-1 के बहुमत से हुए फैसले में पांच जजों की संविधान पीठ  ने साफ कहा था कि हर उम्र वर्ग की महिलाएं अब मंदिर में प्रवेश कर सकेंगी. कोर्ट ने 10 से 50 साल की उम्र की महिलाओं के प्रवेश पर रोक की सैकड़ों साल पुरानी परंपरा को असंवैधानिक करार दिया.

लेकिन इसके बाद भी सबरीमाला मंदिर में महिलाओं को प्रवेश नहीं करने दिया गया. ऐसे में तृप्ति देसाई ने सबरीमाला मंदिर में प्रवेश करने की घोषणा की और कहा था कि हम मंदिर में प्रवेश करेंगे. जिसपर आक्रोशित अंदाज में अयप्पा धर्म सेना के राहुल ईश्वर ने स्वामी अयप्पा की कसम खाते हुए राहुल ने कहा था कि हम आपको मंदिर में प्रवेश नहीं करने देंगे.

अब तृप्ति ने मुंबई वापस जाने का फैसला कर लिया है और रात साढ़े 9 बजे की फ्लाइट से वो वापस मुंबई के लिए रवाना हो जाएंगी. इसे लेकर प्रदर्शनकारी अपनी जीत की खुशी मना रहे हैं. लेकिन ऐसे में सबसे बड़ा सवाल केरल की कानून व्यवस्था और वहां की मौजूदा सरकार पर उठता है कि क्या वो सुप्रीम कोर्ट के फैसले को अमल कराने में पूरी तरह विफल होती जा रही है?

DO NOT MISS