General News

विदेश में टेस्ट जीत पर दुगुने अंक मिलने चाहिये : विराट कोहली

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:


भारतीय कप्तान विराट कोहली ने बुधवार को कहा कि विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप में विदेश में जीत दर्ज करने पर दुगुने अंक मिलने चाहिये । उन्होंने यह भी कहा कि इस चैम्पियनशिप से पांच दिनी प्रारूप का स्तर बेहतर हुआ है ।

फिलहाल श्रृंखला में ‘क्लीन स्वीप’ करने पर एक टीम को 120 अंक मिलते हैं चाहे वह दो मैचों की श्रृंखला हो या पांच मैचों की । विदेश में खेली गई हो या अपनी धरती पर ।

कोहली ने कहा ,‘‘ यदि आप मुझसे अंकतालिका बनाने को कहते तो मैं विदेश में जीत मिलने पर दुगुने अंक देता । मैं पहले सत्र के बाद यह बदलाव देखना चाहूंगा ।’

भारत 160 अंक लेकर शीर्ष पर है । भारतीय टीम ने वेस्टइंडीज को 2 . 0 से हराकर 120 अंक लिये । इसके अलावा दक्षिण अफ्रीका पर पहले टेस्ट में 203 रन से मिली जीत के 40 अंक मिले हैं ।

कोहली ने खुशी जताई कि अब कोई टीम ड्रा के लिये खेलना नहीं चाहती ।

उनहोंने कहा ,‘‘ हर मैच का महत्व बढ गया है । पहले तीन मैचों की श्रृंखला में आप ड्रा के लिये खेल सकते थे लेकिन अब टीमें जीतने के लिये खेल रही हैं ताकि अतिरिक्त अंक ले सकें । यह टेस्ट क्रिकेट के लिये अच्छा है ।’’

भारतीय कप्तान ने कहा ,‘‘ मैच अब अधिक रोमांचक हो रहे हैं । हमें हर सत्र में पेशेवर प्रदर्शन करना होगा । खिलाड़ियों को अपने खेल का स्तर लगातार बेहतर करना होगा ।’’

बता दें भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच दूसरा टेस्ट कल पुणें में खेला जाएगा।  3 मैचों की सीरीज में पहल मैच जीतकर भारत 1-0 से आगे गहै।

इधर दूसरे टेस्ट में विराट कोहली एंड कंपनी चाहेगी कि वो अपनी टीम को और बड़े चैलेंज के लिए तैयार करे जिससे टीम को फायदा हो।  ओपनर के तौर पर पहले टेस्ट में धमाकेदार प्रदर्शन करने वाले रोहित शर्मा एक भी फिर अपने फॉर्म की बदौलत सेलेक्टर्स और टीम मैनेजमेंट को साबित करना चाहेंगे।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान विराट कोहली ने माना की रोहित शर्मा का टेस्ट क्रिकेट में समय आ गया है और उन्हें लाल गेंद से क्रिकेट का आनंद लेना चाहिए।

टीम इंडिया की बैटिंग लाइनअप की बात करे तो रोहित के बाद कोहली, पुजारा, मयंक, विहारी जैसे बल्लेबाज मिडल ऑर्डर को मजबूत करने में आगे हैं।

वहीं भारतीय गेंदबाजों की बात करे तो वो भी बेहतरिन फॉर्म है। इसमें अश्विन और जडेजा जहां शानदार प्रदर्शन तो कर रही हैं तो वहीं तेज गेंदबाज इशांत शर्मा और  मोहम्मद शमी भी बुमराह की नामौजूदगी में शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। 

(इनपुट-भाषा से भी )


 

DO NOT MISS