General News

EXCLUSIVE: तेजप्रताप बोले, 'नहीं करना चाहता था शादी, PM भी बोलेंगे तो नहीं बदलूंगा तलाक पर अपना फैसला"

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

बिहार के सबसे बड़े और ताकतवर राजनीतिक परिवार में इस वक्त घमासान मचा हुआ है.  लालू यादव के बड़े बेटे और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने सबको हैरान करते हुए तलाक की अर्जी दे है. बता दें, सिर्फ 6 महीने पहले तेज प्रताप और ऐश्वर्या की शादी हुई थी और इस खबर से हर कोई हैरान है.

इसी बीच तेज प्रताप ने रिपब्लिक टीवी से एक्सक्लूसिव बातचीत में परिवारिक कलह से लेकर राजनीतिक उठा- पटक पर विस्तार से बात रखी.

उन्होंने कहा कि हमारा झगड़ा पूरे परिवार के सामने हुआ, परिवार को हर सदस्य ने झगड़ा होते हुए देखा. मुझे बलि का बकरा बनाया जा रहा है. मेरे पिता लालू यादव, मां राबरी देवी और भाई तेजस्वी यादव ने हमेशा से ही मुझे हाशिए पर रखने की कोशिश की है. एश्वर्य उच्च सोसइटी से है और जबरदस्ती उनका शादी कराई गई है. हम में कोई समानता नहीं है.

पूर्व स्वास्थ्य मंत्री ने आगे तलाक की अर्जी डालने की पीछे की वजह का जिक्र करते हुए कहा कि जब हमारे बीच लड़ाई हुई फिर ऐश्वर्या ने मुझे से कहा कि तुम मुझे तलाक क्यों नहीं दे देते. मैं कभी भी शादी नहीं करना चाहता था. मेरे हमेशा से धर्म की तरफ लगाव रहा है. मैंने अपने माता-पिता की इच्छा रखी और मैंने शादी कर ली.. उन्होंने आगे कहा कि मैंने अपने पिता लालू यादव  से कहा कि हममें कोई समानता नहीं है और मुझे किसी ने नहीं सुना. 

तेज प्रताप ने आगे तलाक की अर्जी के फैसले को पूर्ण होश में लिया गया फैसला करार देते हुए मैंने अपने पूरे होश में यह अर्जी दायर की है. तीर धनुष से बाहर निकल चुका है. अब मैं अपने पिता जी की भी नहीं सुनूंगा जिनसे मैं मिलने जा रहा हूं. अगर यदि प्रधानमंत्री भी कुछ कहते हैं तो भी नहीं सुनूंगा. मुझे पता है कि हर कोई मेरे पीछे है.  मैंने तेजस्वी को यह भी बताया है कि ऐश्वर्या के साथ मेरी समनता बिल्कुल नहीं है .

तेज प्रताप ने खुद को पीड़ित बताते हुए कहा तेजस्वी, राबड़ी और लालू यादव के आस-पास के लोगों ने हमेशा मुझे हाशिए में डालने की कोशिश की है. ओम प्रकाश नागमानी जैसे लोगों ने लोगों ने तेजस्वी के सामने मुझे नीचा दिखाने की कोशिश की है. लोगों ने मुझे राजनीतिक लाभ लेने के लिए एक बलि का बकरा बना दिया है.

बहन मीसा का क्या है रूख

खबरों के मुताबिक मीसा भारती ने ऐश्वर्या से कहा है कि अगर तेज प्रताप घर में नहीं रहते.. फिर भी वो उस घर में रह सकती हैं. सूत्रों के मुताबिक दोनों ही परिवार वालों की तरफ से तेज प्रताप और ऐश्वर्या को फिर से एक कराने की बात चल रही है.  

इस पूरे विवाद ने लालू प्रसाद और राबड़ी देवी को परेशानी में डाल दिया है. फिलहाल तेज प्रताप लालू से मिलने के लिए रांची के अस्पताल पहुंचे हैं. पिटिशन में तेज प्रताप के द्वारा कहा गया है कि वो अब अपनी पत्नी के साथ रहना नहीं चाहते हैं.. इसलिए वो तलाक चाहते हैं. सूत्रों के मुताबिक तेज प्रताप के व्यवहार के कारण काफी दिनों से दोनों के बीच मतभेद चल रहे थे.

सूत्र बताते हैं कि दोनों के बीच मतभेद को देखते हुए ऐश्वर्या के पिता चंद्रिका राय लालू प्रसाद यादव से मिलने के लिए रांची के अस्पताल पहुंचे थे. बता दें, ऐश्वर्या बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री दरोगा प्रसाद राय की पोती हैं. तेज प्रताप कुछ दिन पहले अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव के साथ मतभेद की खबरों के कारण मीडिया की सुर्खियों में थे.

कौन हैं ऐश्वर्या

राय राजद के विधायक चंद्रिका राय की बेटी हैं. उनके दादा दरोगा राय 1960 के दशक में बिहार के मुख्यमंत्री थे. राय और यादव ने इस साल 12 मई को शादी की थी.

राजद प्रमुख को पटना में शादी में शामिल होने के लिए जमानत मिली थी. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान इस भव्य शादी समारोह में शामिल हुए थे.

DO NOT MISS