General News

यमुना जल पीने से बीमार श्रद्धालुओं को देख मोदी सरकार पर बरसे तेजप्रताप यादव

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

राष्ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू प्रसाद यादव के पुत्र और बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने वृन्दावन में कथित तौर पर यमुना का पानी पीकर बीमार हुए बिहार के श्रद्धालुओं का हाल देख कर केंद्र की मोदी सरकार और प्रदेश की योगी सरकार पर अपना गुस्सा उतारा।

दीपावली मनाने के लिए शनिवार को वृन्दावन पहुंचे तेजप्रताप को पता चला कि बरसाना के संत रमेश बाबा की ब्रज चौरासी कोस यात्रा में शामिल कई श्रद्धालु महिलाएं कथित तौर पर यमुना का पानी पीने से बीमार हो गईं। इनमें से कुछ का संयुक्त चिकित्सालय में इलाज चल रहा है।

तेजप्रताप ने अस्पताल पहुंच कर उनका हाल जाना और हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया। उन्होंने बीमार श्रद्धालुओं का हाल देख कर केंद्र की मोदी सरकार और प्रदेश की योगी सरकार पर अपना गुस्सा उतारा।

उन्होंने आरोप लगाया कि गंगा-यमुना आदि पवित्र नदियों का उद्धार करने का वादा कर केंद्र में काबिज हुई मोदी सरकार ने पांच साल से ज्यादा वक्त गुजर जाने के बाद भी कुछ नहीं किया।

तेजप्रताप ने कहा ‘‘अब इससे ज्यादा प्रमाण क्या होगा कि धार्मिक आस्था के वशीभूत श्रद्धालु आज यमुना जल का आचमन भी नहीं कर सकते। जिन श्रद्धालुओं ने ऐसा किया, उनकी जान पर बन आई है। यह केंद्र और प्रदेश की दोनों सरकारों की बहुत बड़ी नाकामी है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मोदी सरकार गंगा-यमुना की सफाई के नाम पर देशवासियों से सिर्फ मजाक कर रही है। यमुना में यमुना जल न बहकर दिल्ली का दूषित पानी बह रहा है। इसी कारण आचमन करने से श्रद्धालु बीमार हुए।’’

तेजप्रताप ने आगाह किया कि यदि यमुना नदी पर ध्यान नहीं दिया गया तो वो आंदोलन करेंगे।

इससे पहले तेजप्रताप यादव ने रंगजी मंदिर क्षेत्र स्थित एक दुकान से भगवान कृष्ण की मूर्ति खरीदी और यमुना के केशीघाट पर पहुंचकर यमुना के दर्शन करने के बाद बरसाना रवाना हो गए।

सोमवार की सुबह तेज प्रताप ने अपने आठ साथियों के साथ ब्रजवास कर गोवर्धन पूजा की तथा अन्नकूट पर्व मनाया।

(इनपुट- भाषा)
 

DO NOT MISS