General News

भगोड़े नीरव मोदी और बहन पूर्वी पर बड़ी कार्रवाई, स्विटजरलैंड में चार बैंक अकाउंट को किया गया सीज

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

बीजेपी के सत्ता में दोबारा वापसी करने के साथ ही देश का पैसा लेकर भागे भगोड़ों की शामत आ चुकी है, जिसका एक और सबूत आज देखने को मिला है। पीएनबी धोखाधड़ी मामले में मुख्य आरोपी नीरव मोदी और उसकी बहन के चार स्विस खातों से लेनदेन पर रोक लगा दी गई है, इन चार खातों में करीब 283.16 करोड़ रुपये जमा है, यानि नीरव मोदी और उसकी बहन अब इन पैसों का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगी।  

आपको बता दें कि नीरव मोदी अभी लंदन में है और न्यायिक हिरासत में है, बहरहाल ये भी जान लीजिए कि बाकी भगोड़ों का क्या हाल है,इससे पहले बुधवार को ही ये बात सामने आई थी कि इस घोटाले के दूसरे आरोपी मेहुल चोकसी का अब भारत प्रत्यर्पण का रास्ता साफ हो गया है।  

एंटिगुआ के प्रधानमंत्री ने बयान दिया था कि हम मेहुल चोकसी की नागरिकता रद्द कर रहे हैं, अब उसके पास कोई कानूनी रास्ता नहीं बचा है, इसी तरह लंदन में रह रहे भगोड़े विजय माल्या के प्रत्यर्पण की कोशिशें जारी हैं, माल्या प्रत्यर्पण के खिलाफ लंदन में कानूनी लड़ रहा है, माना जा रहा है जल्द ही माल्या को भारत लाया जा सकेगा, कहने का मतलब ये है कि पीएम मोदी के वादे के मुताबिक अब भगोड़ों पर शिकंजा लगातार कसता ही जा रहा है

साफ है मोदीनीति में भ्रष्टाचार और भगोड़ों की खैर नहीं है। पीएम मोदी कड़े फैसले लेना भी जानते हैं और उन्हें अमल में लाना भी जानते हैं, विदेश में भागे भगोड़ों को भी अहसास हो गया है कि उनका बचना नामुमकिन है।