General News

इमरान को सुषमा का करारा जवाब, कहा- 'मसूद को हमें सौंपा जाए, आतंक और बात साथ नहीं'

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

संयुक्त राष्ट्र में चीन की चालबाजी के बाद सुषमा स्वराज ने एक बार फिर पाकिस्तान को चेतावनी दी है। दो टूक शब्दों में कह दिया है कि आतंकी मसूद अजहर को भारत को सौंपे पाकिस्तान तभी बातचीत संभव है। दुनिया एक तरफ है और पाकिस्तान और चीन का आतंकी प्रेम दूसरी तरफ है।

सुषमा ने पाकिस्तान को ललकारा है। पाकिस्तान या तो आतंकवाद को अपनी जमीन से खत्म करें या फिर आतंकी मसूद को भारत को सौंपे। संयुक्त राष्ट्र में चीन और पाकिस्तान की दोस्ती जगजाहिर हो चुकी है। ऐसे में अब पाकिस्तान पर 'सुषमा स्ट्राइक' हुआ है।

पाक पर सुषमा 'बम', पढ़ें बड़ी बातें..

  • इमरान उदार हैं तो मसूद को सौंपें
  • गोली और बोली साथ-साथ नहीं
  • आतंक पर कार्रवाई करे पाकिस्तान
  • जैश-ए-मोहम्मद पर ठोस कार्रवाई हो
  • ISI और सेना पर लगाम लगाए पाक
  • UNSC एक निष्प्रभावी संस्था

पाकिस्तान को भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने करारा जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि आतंक और बातचीत साथ नहीं हो सकती, इमरान उदार हैं तो मसूद को सौंपें। उन्होंने कहा कि UNSC निष्प्रभावी संस्था है, जो मौन साधे बैठी है। पाकिस्तान आतंकी अजहर मसूद को सौंपे और जैश पर कार्रवाई करे। 

एक बार फिर चीन ने हिंदुस्तान के खिलाफ चालबाजी की है। दुनिया को दिखा दिया है कि चीन आतंकियों के साथ खड़ा है। बार-बार हिंदुस्तान से दोस्ती की रट लगाने वाले चीन ने एक बार फिर हमें धोखा दिया है। मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने वाले प्रस्ताव पर रोक लगा दी है। अमेरिका, फ्रांस, ब्रिटेन समेत 10 देश इस प्रस्ताव के पक्ष में थे। बावजूद इसके चीन ने अपनी वीटो की ताकत दिखा ही दी।

इसे भी पढ़ें - UNSC में मसूद अजहर पर बैन नहीं, आतंक पर मेहरबान चीन ने फिर लगाया अडंगा

संसद हमला, पठानकोट हमला, उरी हमलाऔर अब पुलवामा हमले का मास्टमाइंड मसूद अजहर ही है। चीन को पता मसूद अजहर ने भारत को कई जख्म दिए हैं। दुनिया को पता है कि पाकिस्तान अपनी सरजमी से आतंकियों को ट्रेनिंग देता है और हिंदुस्तान में हमले करवाता है लेकिन अब का हिंदुस्तान नया हिंदुस्तान है। 

हर आतंकी घटना का मुंहतोड़ जवाब मिलेगा। भारत ने पाकिस्तान में आतंकी शिविरों को बर्बाद कर दिया है, 200 से अधिक आतंकियों को मार गिराया है। हिंदुस्तानी फौज के डर से सभी आतंकी वाजरिस्तान और अफगानिस्तान शिफ्ट किया जा चुका है। पाक सेना और ISI में जबरदस्त खौफ है। आतंक के खिलाफ हिंदुस्तानी जंग जारी रहेगा।

DO NOT MISS