General News

प्रधानमंत्री के मजाक पर बोले सिद्धरमैया - 'असंवेदनशीलता किसी भी नदी में डुबकी लगाने से नहीं धुल सकती'

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:


बेंगलुरु, चार मार्च (भाषा) कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने डिस्लेक्सिया बीमारी के बहाने राहुल गांधी को निशाना बनाकर किये गये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मजाक की सोमवार को आलोचना की। हाल में एक कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री ने डिस्लेक्सिया बीमारी पर एक छात्रा के सवाल का जवाब देने के दौरान कथित रूप से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को निशाना बनाकर राजनीतिक मजाक किया था।

मोदी पर निशाना साधते हुए सिद्धरमैया ने ट्वीट किया : ‘‘नरेंद्र मोदी डिस्लेक्सिया पीड़ित लोगों के नाम पर राजनीतिक मजाक कर रहे हैं। आपको शर्म आनी चाहिए...!! आप इससे और नीचे नहीं गिर सकते । आपके अंदर की असंवेदनशीलता किसी भी नदी में डुबकी लगाने से नहीं धुल सकती । वे :डिस्लेक्सिया पीड़ित :भले ही सीखने की प्रक्रिया में धीमे हों, लेकिन आपकी तरह पत्थरदिल नहीं हैं।’’ 

कर्नाटक कांग्रेस के अध्यक्ष दिनेश गुंडू राव ने भी इस कथित मजाक पर मोदी की आलोचना की।

प्रधानमंत्री के बयान वाले वीडियो को पोस्ट करते हुए राव ने रविवार को ट्वीट किया, ‘‘अगर भारत में कभी कोई अशिष्ट, असभ्य प्रधानमंत्री हुआ है तो यह है उसका उदाहरण। कितना घिनौना है!’’ 

रविवार को छात्रों से बातचीत के दौरान एक छात्रा ने प्रधानमंत्री से डिस्लेक्सिया पीड़ित बच्चों के लाभ के लिये सरकार द्वारा उठाये गये कदमों के बारे में जानना चाहा था।

वह अपना सवाल खत्म करती इससे पहले ही प्रधानमंत्री ने उसे रोककर वह कहा, जो कथित रूप से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर राजनीतिक मजाक माना जा रहा है।

मोदी ने छात्रा से पूछा, क्या वह जिस योजना के बारे में बात कर रही हैं वह 40 या 50 साल के बच्चों के लिये भी फायदेमंद होगी। इसके बाद उन्होंने कहा कि ऐसे बच्चों की मां तो बहुत खुश होंगी।

यह भी देखें - CM कैप्टन अमरिंदर ने लाहौर पहुंचे सिद्दधू को दी हिदायत, कहा - 'विदेशी धरती पर भारत की नीतियों का ख्याल रखें.'

 

DO NOT MISS