General News

बेटियों पर अत्याचार बिहार फिर शर्मसार- हॉस्टल में घुसकर बच्चियों को जानवर की तरह पिटा

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

मुजफ्फरपुर कांड से हिले बिहार से बच्चीयों का कोई रखवाला नहीं है यह बात हम इसलिए कह रहे हैं कि सुपोल में हॉस्टल के अंदर घूस कर बच्चियों को मारा गया. उन बच्चीयों की चिख पुकार अगर आप सुनेंगे तो कलेजा कांप जाएगा. 

बच्चियों ने अपने साथ हो रहे छेड़छाड़ का विरोध किया तो बदमाशों ने हॉस्टल में घूस कर उन्हें मारा . दर्द से चिखती इन बच्चीयों की चिख सुन कर आपका भी दिल बैठ जाएगा. 

कानून को ताक पर रखकर त्रिवेणीगंज कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय की 50 से ज्यादा बच्चियों को हॉस्टल में घुसकर मारा गया. 

दरअसर घटना की शुरुआत तब हुई जब कस्तूरबा हाई स्कूल में छात्राएं खेल रही थी तभी कुछ लड़कों ने अभद्र टिप्पणी की और स्कूल की दीवार पर अपशब्द लिखे. इसका जब छात्राओं ने विरोध किया तो आरोपी लड़कों ने गांव में जाकर इसकी जानकारी दी. जिसके बाद दर्जनों लोग छात्रावास पहुंचे और लड़कियों की पिटाई कर दी. प्रखंड विकास पदाधिकारी ममता कुमारी ने घटना के संबंध में कहा है कि जांच के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

वहीं बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने महिला और बच्चियों के खिलाफ बढ़ते अपराध को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है. उन्होंने आज ट्वीट कर कहा, ''अखबार खोलते ही बिहार में #NitishKaAatankRaj पढ़ना पड़ता है. चारों तरफ़ लूट, हत्या, बलात्कार, व्याभिचार, अपहरण के आतंक का तमाशा दिखना शुरू हो जाता हैं.''

उन्होंने कहा, ''बिहार में सुपौल के त्रिवेणीगंज के कस्तूरबा गांधी गर्ल्स स्कूल में घुसकर असामाजिक तत्वों द्वारा हॉस्टल में रहने वाली 34 छात्राओं को बुरे तरीके से मारा-पीटा गया है. बेख़ौफ गुंडों की मार से घायल सभी छात्राओं को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. सरकार नरम है, अपराध चरम पर है.''

यह भी पढ़े - पटना के आसरा शेल्टर होम में अकसर रात को कौन आता था स्विफ्ट कार से ?

DO NOT MISS