General News

इलाहाबाद कोर्ट परिसर में साक्षी के पति अजितेश की हुई 'पिटाई', कोर्ट ने दिए जांच के आदेश

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

उत्तर प्रदेश के बरेली से बीजेपी विधायक राजेश मिश्र उर्फ पप्पू भरतौल की बेटी साक्षी मिश्रा और उनके पति अजितेश कुमार अपनी सुरक्षा की गुहार के लिए कोर्ट में पेश हुए। कोर्ट ने मामले की सुनवाई करते हुए दोनों की सुरक्षा प्रदान करने का निर्देश दिया। इसी बीच एक चौंकाने वाली खबर सामने आई है जहां अजितेश ने वकील ने दावा किया है कि कोर्ट परिसर में कुछ लोगों  ने अजितेश के साथ मारपीट की।

साक्षी और उसके पति ने अदालत से सुरक्षा मांगी थी कि उनके शांतिपूर्ण जीवन में किसी तरह की दखलअंदाजी न की जाए। आज जब इस मामले पर सुनवाई शुरू हुई, उस समय साक्षी और उसका पति सुनवाई के समय अदालत में मौजूद थे।

न्यायमूर्ति सिद्धार्थ वर्मा ने साक्षी और उसके पति को सुरक्षा मुहैया कराने का आदेश पारित किया। इन्होंने दलील दी थी कि साक्षी के पिता से इनकी जान को खतरा है क्योंकि वे उनकी शादी से नाखुश हैं जिसकी वजह अजितेश का दलित जाति से होना है। हालांकि जैसे ही वे अदालत से बाहर आए, कुछ वकीलों ने उनके साथ हाथापाई की। इस बीच, अदालत से बाहर एक दंपति का अपहरण होने की घटना से सनसनी फैल गई और लोगों को लगा कि साक्षी और अजितेश का अपहरण हो गया है।

हालांकि, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अतुल शर्मा ने बताया कि यह कोई और युगल है जिसका वाहन फतेहपुर में पकड़ लिया गया है और पूछताछ की जा रही है।

बता दे, इससे पहले साक्षी-अजितेश ने कोर्ट में अपनी जान को खतरा बताते हुए सुरक्षा की गुहार लगाई थी। उनका आरोप था कि विधायक राजेश (लड़की के पिता) के पिता उनकी जान के दुश्मन बने हुए हैं। लिहाजा कोर्ट प्रशासन को सुरक्षा मुहैया कराने  का आदेश दें। बता दें, पिछले कई दिनों से ये जोड़ा राष्ट्रीय सुर्खियों में बना हुआ है। पिछले दिनों साक्षी और अजितेश ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट जारी किया था, जहां उन्होंने लड़की के पिता सहित कुछ लोगों पर जान से मारने की कोशिश करने का आरोप लगाया था।   

लेकिन दिनों- दिन इस केस में नई- नई चीफ सामने आने लगी। जैसे वीडियो में अजितेश खुद को दलित बता रहे हैं लेकिन अगर उनकी सोशल मीडिया अकाउंट पर उन्होंने खुद को उच्च जाति बताते हैं।

DO NOT MISS