General News

राबर्ट वाड्रा अब हरियाणा में अपनी राजनीतिक जमीन तलाशने में लगे हैं: स्मृति ईरानी

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने बृहस्पतिवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद राबर्ट वाड्रा पर बड़ा प्रहार करते हुए कहा कि ‘‘कांग्रेस के दामाद’’ वाड्रा अब हरियाणा में अपनी राजनीतिक जमीन तलाशने में लगे हैं ताकि वह यहां भ्रष्टाचार के पैसे से गरीबों की बेशकीमती जमीनों को हड़प सकें।

उन्होंने कहा कि हरियाणा विधानसभा चुनाव उनके लिए एक माध्यम है, जिसके द्वारा वह भ्रष्टाचार के माध्यम से अर्जित की गई संपत्ति को यहां निवेश कर सकें।

उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं गृहमंत्री अमित शाह ने अनुच्छेद 370 एवं 35 ए को निष्प्रभावी करके ऐसा काम किया है, जो पिछले 70 सालों में भी नहीं हुआ।

यह भी पढ़ें - हरियाणा में सत्ता बरकरार रखने के लिए भाजपा को करना पड़ रहा है बहु-स्तरीय बाधा का सामना


केंद्रीय मंत्री गुरुवार को तिगांव की अनाज मंडी में भाजपा उम्मीदवार राजेश नागर के समर्थन में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रही थीं।

ईरानी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने देश को खुशहाली की राह पर अग्रसर किया है और किसान, मजदूर, व्यापारी, दुकानदार सभी सरकार की नीतियों से लाभान्वित हो रहे है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा शुरु की गई फसल बीमा योजना के तहत 8 लाख 60 हजार किसानों का मुआवजा दिया गया, जिनकी फसल प्राकृतिक आपदा से खराब हो गई थी। इसके अलावा किसान सम्मान योजना का लाभ भी किसानों को मिल रहा है।

हरियाणा विधानसभा की 90 सीटों के लिए एक ही चरण में 21 अक्टूबर को मतदान कराया जाएगा। राज्य में सत्तारूढ़ भाजपा और विपक्षी कांग्रेस के बीच मुख्य मुकाबला है। इन दोनों दलों के अलावा इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो), जननायक जनता पार्टी, आम आदमी पार्टी और स्वराज इंडिया पार्टी भी चुनावी मैदान में है।

राज्य में चुनाव के दौरान विपक्ष द्वारा बेरोजगारी, युवाओं, किसानों, कर्मचारियों और पानी के मुद्दों को उठाये जाने की संभावना है।
 

DO NOT MISS