General News

मनी लॉन्ड्रिंग केस : ED ऑफिस में रॉबर्ट वाड्रा से पूछताछ जारी

Written By Amit Bajpayee | Mumbai | Published:

मनी लॉन्ड्रिंग केस के एक मामले में रॉबर्ट वाड्रा  प्रवर्तन निदेशालय के दफ्तार पहुंचे है. रिपब्किल भारत के सूत्रों के अनुसार ईडी के 7 अफसर रॉबर्ट वाड्रा से पूछताछ कर कर रहे हैं। रॉबर्ट वाड्रा को प्रवर्तन निदेशालय के दफ्तर छोड़ने के लिए प्रियंका गांधी भी गई थी। हालांकि प्रियंका गांधी अपने पति रॉबर्ट वॉड्रा को ईडी के दफ्तार छोड़ने के बाद वापस चली गईं।

जानकारी के अनुसार रॉबर्ट वाड्रा के लिए 42 से अधिक सवालों की लिस्ट तैयार की गई है । वहीं वाड्रा के सबसे खास वकील सुमन खैतान ED दफ्तर के बाहर निकले ।


बता दें पिछले हफ्ते कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा के पति रॉबर्ट वाड्रा ने मनी लॉन्ड्रिंग केस में गिरफ्तारी से बचने के लिए पटियाला हाउस कोर्ट में अर्जी लगाई थी। जहां उन्हें 16 फरवरी तक के लिए अंतरिम जमानत मिल गई थी । 

रॉबर्ट वाड्रा ने अपनी याचिका में कहा था कि उन्हें जानबूझकर कर राजनीत के लिए  निशाना बनाया जा रहा है और उनपर झूठे मुकदमे चलाए जा रहे हैं. उनका कहना है कि ये सब राजनीति से प्रेरित है. वाड्रा ने कहा था कि वे कानून का पालन करने वाले नागरिक हैं । 

वहीं इसपर रॉबर्ट वाड्रा के करीबी जगदीश शर्मा ने कहा कि , 'वाड्रा को फंसाया जा रहा है, प्रियंका गांधी और राहुल गांधी का रथ अब रुकने वाला नहीं है। ये (सरकार) गलत काम कर रहे हैं, रॉबर्ट वाड्रा बहुत ईमानदार आदमी है । भारतीय जनता पार्टी आनन-फानन में वाड्रा को जेल भेजना चाहती है । '

याद दिला दें कि ये मामला लंदन के 12, ब्रायनस्टन स्क्वेयर स्थित  करीब 17 करोड़ रुपये (19 लाख पाउंड ) की एक प्रॉपर्टी की खरीदारी में कथित मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़ा हुआ है । प्रवर्तन निदेशालय का  दावा है कि इस संपत्ति के असल मालिक रॉबर्ट वाड्रा हैं । मनी लॉन्ड्रिंग केस के तहत ईडी मनोज अरोड़ा से भी पूछताछ कर रही है । फिलहाल मनोज अरोड़ा की गिरफ्तारी पर पटियाला हाउस ने 6 फरवरी तक अंतरिम रोक लगा दी है ।

DO NOT MISS