General News

R. भारत के कैमरे में कैद अंडरवर्ल्ड डॉन रवि पुजारी, एंटोनी फर्नांडीज के नाम से रह रहा डॉन

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

सेनेगल अदालत से जमानत मिलने के बाद फरार चल रहा अंडरवर्ल्ड डॉन रवि पुजारी के अब दिन पूरे हो गए हैं। रिपब्लिक भारत कुख्यात डॉन के चेहरे को अब दुनिया के सामने लाने जा रहा है। ऐसी तस्वीरे जो आपने पहले कभी नहीं देखी होंगी। कैसे वो भारत सरकार की आंखों में धूल झोंककर अफ्रीका के सेनेगल में मौज की जिंदगी जी रहा है। 

लेकिन अब रिपब्लिक भारत के कैमरे में डॉन की अय्याशी भरी जिंदगी कैद हो गई है। कैमरे में कैद तस्वीरों  में साफ देखा जा सकता है कि वो किस तरह कानून की नजरों से बचकर सेनेगल में करोबार चला रहा है।  जानकारी के अनुसार रवि पुजारी वहां पर महाराजा नाम से रेस्टोरेंट चेन चलाता है। 

100 से ज्यादा वसूली के केस

डॉन पुजारी के खिलाफ 100 से ज्यादा वसूली के केस दर्ज हैं। यहीं नहीं करीब 4 राज्य दिल्ली, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक की पुलिस को उसकी तलाश है।  बता दें, 1990 के दशक में पुजारी भारतीय एजेंसियों को चकमा देकर विदेश भाग गया था। बताया जाता रहा है कि वो सेनेगल से ही भारत में जबरन वसूली का काला कारोबार चलाता है। वहीं भारत सरकार भी अब उसके प्रत्यपर्ण में जुट गई है। 

वहीं रिपब्लिक टीवी ने रवि पुजारी के फर्जी पासपोर्ट की एक कॉपी हाथ लगी है। जो कथित तौर पर 10 जुलाई, 2013 को पश्चिम अफ्रीका में बुर्किना फासो सरकार द्वारा उन्हें जारी किया गया था। जबकि पासपोर्ट में रवि पुजारी की तस्वीर है, दस्तावेज पर नाम 'एंटनी फर्नांडीस' है। 'पासपोर्ट की जानकारी के अनुसार, पुजारी की जन्म तिथि 25 जनवरी, 1961 है और जन्म स्थान मैसूर, कर्नाटक है।

सूत्रों के अनुसार, भगोड़े गैंगस्टर रवि पुजारी ने पश्चिम अफ्रीका के सेनेगल में एंटनी फर्नांडीस के नाम से करीब 8 साल तक होटल की चेन चलाई। सूत्रों के अनुसार, वह एक दशक से अधिक समय से अफ्रीका में है जहां वह अपनी पत्नी और बच्चों के साथ सेनेगल की राजधानी डकार में एक होटल व्यवसायी के रूप में शानदार जीवन जी रहा था। घटनाओं के एक नाटकीय मोड़ में, उन्हें 21 जनवरी, 2019 को एक नाई की दुकान से गिरफ्तार किया गया था, जिसे भारत के लिए एक बड़ी जीत के रूप में देखा गया था।

DO NOT MISS