General News

R. भारत SUPER EXCLUSIVE: 'मिशन शक्ति' का पूरा VIDEO, देश का सीना गर्व से हुआ चौड़ा

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

बुधवार की सुबह ग्यारह बजकर तेइस मिनट पर पीएम मोदी ने ट्विट कर ये जानकारी दी कि वो देश को संबोधित करने वाले हैं। पीएम के ट्वीट के बाद पूरे देश की निगाहें बस इस बात पर टिकी थीं कि पीएम क्या कहने वाले हैं। 

चुनावी मौसम है लिहाजा सियासी हलकों में भी हड़कंप मचा था। घड़ी की सुइयों के साथ साथ सबकी धड़कनें तेज होती जा रही थीं। दोपहर 12:30 बजे मोदी देश के सामने आए। उस खबर के साथ जिसने एक सौ तीस करोड़ भारतीयों का सिर गर्व से ऊंचा कर दिया। 

पीएम मे बतया कि भारत ने अतंरिक्ष में अपना डंका बजाया है। वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में 300 किलोमीटर दूर लो अर्थ ऑर्बिट में एक लाइट सैटलाइट को मार गिराया है। यह पूर्व निर्धारित लक्ष्य था। उसे एंटी सैटलाइट मिसाइल से गिराया गया। 

लेकिन सियासी गलियारों के कुछ नामचीन हस्तियों ने इसे लेकर भी सवाल खड़े कर दिए और देशते ही देखते राजनीतिक महकमे में हलचल तेज हो गई। 

सबसे पहले कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने इसका मज़ाक बनाते हुए एक ट्वीट किया और एक के बाद एक विपक्ष के कई बड़े नेताओं ने इसे राजनीतिक करार दे दिया। लेकिन रिपब्लिक भारत के मिशन शक्ति का पूरा SUPER EXCLUSIVE वीडियो मौजूद है।

उपर दिया गया ये वीडियो वो सबूत है जो सबूत मांगने वालों की बोलती बंद कर देगा। ये वो विडियो है जो उनकी ज़ुबान पर ताला लगा देगा जो भारत के अतरिक्ष की सर्जिकल स्ट्राइक को आज ड्रामा बता रहे थे।

मिशन शक्ति  का पूरा वीडियो देखकर देश का सीना गर्व से चौड़ा हो जाएगा। ये वीडियो राष्ट्र की शान बढ़ाने वाला है। 

बता दें, केवल तीन मिनट में सफलता के साथ यह मिशन पूरा हुआ। अब तक दुनिया के 3 देश अमेरिका, रूस और चीन को अंतरिक्ष में यह उपलब्धि हासिल थी। भारत अब चौथा देश बन गया है। 

गौरतलब है कि राहुल गांधी को देश की इतनी बड़ी उपलब्धि पर याद आया विश्व नाटक दिवस जिसकी बधाई उन्होने पीएम को दी। उन्हें आज और याद आ भी क्या सकता था क्योंकि वो ये तो बता नहीं सकते की उनकी सरकार ने 2012 में क्या किया था। कैसे उनकी सरकार डीआरडीओ के प्रस्ताव को ठंडे बस्ते में रख कर बैठी रही और दुश्मन आंख दिखाता रहा।

इसे भी पढ़ें - मिशन 'शक्ति' से बौखलाया चीन, घबराया पाकिस्तान... अंतरिक्ष में बाहुबली हिंदुस्तान

ममता को भी देश जिस उपलब्धि पर गर्व कर रहा है वो पॉलिटिकल ड्रामा लगता है। राहुल की ही तरह ममता बनर्जी भी आजकल ड्रामा शब्द का बहुत इस्तमेाल कर रही हैं। और ममता ही नही बल्कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव भी चुनाव में राजनीतिक फायदे के लिए वैज्ञानिकों की उपलब्धि को कम करके दिखाने में लगे हैं वरना कोई और वजह नही हो सकती क्यों अखिलेश और तमाम विपक्ष देश की सफलता पर सवाल उठा रहे हैं।

DO NOT MISS