General News

परमाणु बम पर राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को चेताया, 'नो फर्स्ट यूज' हमारी न्यूक्लियर पॉलिसी, आगे क्या होगा भविष्य बताएगा''

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

जम्मू-कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा खत्म करने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। ऐसे में पाक प्रधानमंत्री इमरान खान की ओर से लगातार उकसावे वाले बयानों पर भारतीय रक्षमंत्री राजनाथ ने करारा जबाव दिया । पाकिस्तान को चेतवानी देते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि ''नो फर्स्ट यूज' भारत की परमाणु नीति है, लेकिन भविष्य में क्या होगा , यह परिस्थितियों पर निर्भर करता है। 

यादा दिला दें कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की प्रथम पुण्यतिथी के मौके पर उन्हें श्रद्धाजंली देने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पोखरण पहुंचे । इस मौके पर राजनाथ सिंह ने कहा ''भारत एक जिम्मेदार परमाणु राष्ट्र का दर्जा रखता है और हर नागरिक के लिए यह राष्ट्रीय गौरव है। यह गौरव हमें अटलजी की बदौलत मिला है और देशवासी सदैव इसके लिए उनका ऋणी है।'  

याद दिला दें कि अमेरिका समेत दुनिया के तमाम देशों के विरोध के बावजूद मई 1998 में भारत ने पोखरण में परमाणु परीक्षण किया था।  इस दौरान अटल बिहारी बाजपेयी प्रधानमंत्री थे। 

इससे पहले राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा कि यह एक संयोगी है कि मैं जैसलमेर में हूं जब पूर्ण प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की पहली ''पुण्यतिथि'' है और मैं जैसलमेर में मौजूद हूं। ऐसे में मुझे उन्हें पोखरण की धरती से ही श्रद्धांजलि देनी चाहिए ।  

पौखरण पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ट्वीटर पर लिखा,' पोकरण वह इलाका है जिसने भारत को परमाणु शक्ति बनाने के लिए अटल जी के दृढ़ संकल्प को देखा और अभी तक 'नो फर्स्ट यूज' (पहले इस्तेमाल नहीं करने) के सिद्धांत के लिए प्रतिबद्ध है।' 

उन्होंने मीडिया से बात करते हुए राजनाथ ने कहा कि  भारत एक जिम्मेदार परमाणु राष्ट्र का दर्जा रखता है और हर नागरिक के लिए यह राष्ट्रीय गौरव है। यह गौरव हमें अटलजी की बदौलत मिला है और देशवासी सदैव इसके लिए उनका ऋणी है।'  

 सिंह के अनुसार उन्होंने पोकरण में भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को उनकी पहली पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि दी।

उन्होंने लिखा है, 'भारत का एक जिम्मेदार परमाणु राष्ट्र का दर्जा प्राप्त करना इस देश के प्रत्येक नागरिक के लिए राष्ट्रीय गौरव का विषय है। देश अटल जी की महानता का ऋणी रहेगा।' 

इससे पहले सिंह ने जैसलमेर में पाचवीं अंतर्राष्ट्रीय आर्मी स्काउट मास्टर्स प्रतियोगिता के समापन समारोह को संबोधित किया।

DO NOT MISS