General News

परिवार के साथ ED दफ्तर पहुंचे राज ठाकरे, ईडी ऑफिस में पूछताछ जारी

Written By Press Trust of India (भाषा) | Mumbai | Published:

मनसे प्रमुख राज ठाकरे को धन शोधन मामले की जांच के सिलसिले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष पेश होने पहुंचे। राज ठाकरे के साथ उनकी पत्नी शर्मिला, बेटा अमित और उनकी पत्नी शामिल हैं।  ठाकरे परिवार से ईडी कोहीनूर मिल खरीदने में ILFS और कोहिनूर सीसीएनएल से जुड़े डील और ट्रांजेक्शन  इनरेगुलटीज सहित ईकविटी शेयर होल्डिंग पैटर्न पर पूछताछ करेगी।

हालांकि राज ठाकरे के समर्थन में मनसे के नेता उतर आए हैं। इसे  देखते हुए मुंबई पुलिस ने गुरुवार को दक्षिण मुंबई में ईडी कार्यालय के बाहर आपराधिक दंड संहिता की धारा 144 (गैरकानूनी तरीके से एकत्र होने पर प्रतिबंध) लगा दी ।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह कदम कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए उठाया गया है। 

अधिकारी ने कहा, ‘‘राज ने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं से ईडी कार्यालय के बाहर एकत्र नहीं होने की अपील की है, लेकिन हम कोई भी जोखिम नहीं लेना चाहते हैं।’’ 

अधिकारी ने कहा कि ठाकरे को ईएल एंड एफएस जांच के सिलसिले में पूछताछ के लिए सुबह करीब साढ़े बजे बल्लार्ड पियर स्थित ईडी कार्यालय में पेश होना है।

इस बीच, मनसे नेता संदीप देशपांडे को गुरुवार की सुबह पुलिस ने हिरासत में ले लिया। 

अधिकारी ने बताया, ‘‘हमने माता रमाबाई अंबेडकर मार्ग पुलिस थाना के अधिकार क्षेत्र में धारा 144 लागू की है जहां ईडी कार्यालय स्थित है।’’ 

उन्होंने कहा कि धारा 144 के तहत चार से अधिक व्यक्तियों को उस इलाके में एक जगह इकट्ठा होने पर प्रतिबंध होता है, जहां शांति भंग होने की आशंका रहती है।

अधिकारी ने कहा कि मनसे प्रमुख के वहां पहुंचने से पहले ईडी कार्यालय के बाहर भीड़ जमा होने की आशंका को देखते हुए, एजेंसी कार्यालय के बाहर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

उन्होंने कहा कि मध्य मुंबई के दादर क्षेत्र और अन्य स्थानों पर कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए भारी संख्या में पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है।

गौरतलब है कि मध्य मुंबई के दादर क्षेत्र को मनसे का गढ़ कहा जाता है।

अधिकारी ने बताया कि मुंबई पुलिस ने बुधवार को एहतियातन कदम के तौर पर सीआरपीसी की धारा 149 के तहत मनसे के पदाधिकारियों और कई पार्टी कार्यकर्ताओं को नोटिस दिए। धारा 149 संज्ञेय अपराधों की रोकथाम से संबंधित है।

ईडी कोहिनूर सीटीएनएल इन्फ्रास्ट्रक्चर कंपनी में ईएल एंड एफएस द्वारा किए गए 450 करोड़ रुपये से अधिक के इक्विटी निवेश और ऋण में कथित अनियमितताओं की जांच कर रहा है। कंपनी मुंबई के दादर क्षेत्र में कोहिनूर स्क्वायर टॉवर बना रही है।

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और शिवसेना के वरिष्ठ नेता मनोहर जोशी के बेटे उन्मेष जोशी को भी इस मामले में ईडी ने तलब किया है।

भाषा कृष्ण मनीषा मनीषा 2208 1126 मुंबई जसजस आवश्यक .मुंबई प्रादे 5 महाराष्ट्र लीड राज ईडी राज ठाकरे के ईडी कार्यालय पहुंचने से पहले मनसे नेताओं को हिरासत में लिया गया मुंबई, 22 अगस्त (भाषा) मनसे प्रमुख राज ठाकरे को धन शोधन मामले की जांच के सिलसिले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष पेश होना है जिसे देखते हुए मुंबई पुलिस ने गुरुवार को दक्षिण मुंबई में ईडी कार्यालय के बाहर आपराधिक दंड संहिता की धारा 144 (गैरकानूनी तरीके से एकत्र होने पर प्रतिबंध) लगा दी ।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह कदम कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए उठाया गया है। 

अधिकारी ने कहा, ‘‘राज ने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं से ईडी कार्यालय के बाहर एकत्र नहीं होने की अपील की है, लेकिन हम कोई भी जोखिम नहीं लेना चाहते हैं।’’ 

अधिकारी ने कहा कि ठाकरे को ईएल एंड एफएस जांच के सिलसिले में पूछताछ के लिए सुबह करीब साढ़े बजे बल्लार्ड पियर स्थित ईडी कार्यालय में पेश होना है।

इस बीच, मनसे नेता संदीप देशपांडे को गुरुवार की सुबह पुलिस ने हिरासत में ले लिया। 

अधिकारी ने बताया, ‘‘हमने माता रमाबाई अंबेडकर मार्ग पुलिस थाना के अधिकार क्षेत्र में धारा 144 लागू की है जहां ईडी कार्यालय स्थित है।’’ 

उन्होंने कहा कि धारा 144 के तहत चार से अधिक व्यक्तियों को उस इलाके में एक जगह इकट्ठा होने पर प्रतिबंध होता है, जहां शांति भंग होने की आशंका रहती है।

अधिकारी ने कहा कि मनसे प्रमुख के वहां पहुंचने से पहले ईडी कार्यालय के बाहर भीड़ जमा होने की आशंका को देखते हुए, एजेंसी कार्यालय के बाहर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

उन्होंने कहा कि मध्य मुंबई के दादर क्षेत्र और अन्य स्थानों पर कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए भारी संख्या में पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है।

गौरतलब है कि मध्य मुंबई के दादर क्षेत्र को मनसे का गढ़ कहा जाता है।

अधिकारी ने बताया कि मुंबई पुलिस ने बुधवार को एहतियातन कदम के तौर पर सीआरपीसी की धारा 149 के तहत मनसे के पदाधिकारियों और कई पार्टी कार्यकर्ताओं को नोटिस दिए। धारा 149 संज्ञेय अपराधों की रोकथाम से संबंधित है।

ईडी कोहिनूर सीटीएनएल इन्फ्रास्ट्रक्चर कंपनी में ईएल एंड एफएस द्वारा किए गए 450 करोड़ रुपये से अधिक के इक्विटी निवेश और ऋण में कथित अनियमितताओं की जांच कर रहा है। कंपनी मुंबई के दादर क्षेत्र में कोहिनूर स्क्वायर टॉवर बना रही है।

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और शिवसेना के वरिष्ठ नेता मनोहर जोशी के बेटे उन्मेष जोशी को भी इस मामले में ईडी ने तलब किया है।

DO NOT MISS