General News

राहुल गांधी ने 'झूठ का झुनझुना लेकर पप्पू से लेकर गप्पू' तक का सफर तय किया - मुख्तार अब्बास नकवी

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

अल्पसंख्यक कार्य मामलों के केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने राहुल गांधी की मानसरोवर यात्रा पर रविवार को इलाहबाद में तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने 'झूठ का झुनझुना लेकर पप्पू से लेकर गप्पू' तक का सफर तय किया है.

इलाहबाद के सर्किट हाउस में उन्होंने पीटीआई भाषा से बातचीत में कहा, “हम तो उन्हें (राहुल गांधी) शुभकामना देते हैं कि ऐसे धार्मिक स्थानों पर वह जाएं जहां सच का सामना करने की उन्हें शक्ति मिले और झूठ का झुनझुना उनसे छूट जाए.”

उत्तर मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र में हुनर हाट का उद्घाटन करने आए नकवी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, “कांग्रेस पार्टी भ्रष्टाचार का एक डूबता हुआ क्रूज है और जो इस पर बैठेगा, वह डूबेगा”

उन्होंने कहा, “इसका ज्वलंत उदाहरण उत्तर प्रदेश है जहां समाजवादी पार्टी ने इस पर बैठकर अपनी किस्मत आजमाने की कोशिश. इसी तरह, पश्चिम बंगाल में कम्युनिस्ट पार्टी ने इस क्रूज पर बैठकर किस्मत आजमाने की कोशिश की और वहां उसका बंटाधार हुआ. 2019 में देश की जनता के आशीर्वाद से नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में ही सरकार बनेगी और भाजपा प्रचंड बहुमत से जीतेगी.”

नकवी ने कहा, “कांग्रेस पार्टी पॉलिटिकल पाखंड का पर्याय बन गई है. कांग्रेस ने जब केंद्र की सत्ता सौंपी थी, उस समय मुद्रास्फीति 11 प्रतिशत से अधिक थी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसे चार प्रतिशत के आसपास लाकर खड़ा कर दिया है.”

हालांकि उन्होंने स्वीकार किया पिछले कुछ समय से महंगाई कुछ बढ़ी है जिसे सरकार नियंत्रित करेगी और उसे नीचे लाएगी. ऐसा इसलिए है क्योंकि दिल्ली की सत्ता के गलियारे से सत्ता के दलालों की नाकेबंदी और लूट लाबी में तालेबंदी करने में हम सफल रहे हैं.

राफेल सौदे को लेकर कांग्रेस के आक्रामक रुख पर नकवी ने कहा, “राफेल को लेकर कांग्रेस और उसके साथ खड़े जो लोग हंगामा कर रहे हैं वे अज्ञानी हैं और उन्हें जमीनी हकीकत नहीं मालूम. इस बारे में सरकार ने संसद के भीतर और बाहर स्पष्ट और पारदर्शी तरीके अपनी बात रखी है. पहली बार कोई रक्षा सौदा दो सरकारों के बीच हुआ है न कि किसी बिचौलये के माध्यम से.”

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय ने उत्तर प्रदेश में इलाहाबाद से हुनर हाट की शुरूआत की है जहां 26 राज्यों से दस्तकार, शिल्पकार और कारीगर अपने उत्पाद बिक्री के लिए प्रदर्शित कर रहे हैं. मंत्रालय की योजना अगले महीने पुडुचेरी, नवंबर में अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला, दिल्ली, दिसंबर में मुंबई, जनवरी में बाबा खड़ग सिह मार्ग, दिल्ली और फरवरी में गोवा में हुनर हाट आयोजित करने की है.

 

DO NOT MISS