General News

पंजाब: कोरोना से निपटने के लिए किसानों और वेंडर्स का किया जा रहा है मेडिकल चेकअप

Written By amit bhardwaj | Mumbai | Published:

पंजाब के मानसा जिले में पुलिस और सिविल प्रशासन द्वारा कर्फ्यू के दौरान रोज़ाना इस्तेमाल के लिए जरूरी चीजें जैसे दूध, सब्जीयां व अन्य राशन का सामान लोगों तक घर घर पहुंचाने के लिए कुछ बढ़िया कदम उठाए गए है इससे उनके घरों में खाने पीने की कमी भी न हो और कर्फ़्यू के दौरान लोग सब्जीयां, दूध व अन्य खाने का सामान खरीदने के लिए अपने घरों से निकल मंडीयों की ओर न भागें। जिससे कोरोना वायरस की चेन जल्द टूटे और वह पब्लिक में न फ़ैल सके। अधिकारियों द्वारा इस कोरोना से निपटने का अच्छा और नया प्रयास यह भी किया गया है कि घर घर दूध, राशन और सब्जीयां पहुंचने वालों को पहले मंडियों में ही सैनिटाइज़ किया जाएगा फिर वो मंडियों से सब्ज़ियां और दूध बेचने के लिए लोगों के घरों तक पहुंचेगे।
इस संबंध में मानसा के एस एस पी डॉ. नरेंद्र भार्गव ने रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क से बात करते हुए कहा कि हम यह जितने भी प्रयास देश और राज्यों में कर रहे है वो सिर्फ कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए किए जा रहे है तांकि यह जानलेवा वायरस लोगों को न छू पाए। इसलिए लोगों को करोना वायरस से बचाने के लिए हमने  सब्जी मंडी में आने वाले किसानो और वैंडर्स का मेडिकल परीक्षण करवाने के लिए एक मैडिकल टीम को तैनात किया गया है और लोगों के घरों पर जाने से पहले इन्हें पूरा सैनिटाइज़ करने का काम भी किया गया है और साथ ही सभी वैंडरों को मास्क और सैनीटाइजर भी उप्लब्ध कराए गए है। 

उन्होंने कहा कि हमने मानसा, बुढलाडा और अन्य कई जगहों का निरिक्षण कर देख रहे है कि सामान की सप्लाई करने वाले व्यक्ति बिमारी से संक्रिमत ना हो। डोर टू डोर सप्लाई सिस्टम ठीक से हो इस पर भी स्थानीय की लोगों से फीड बैक भी ली जा रही है। 

इसी संबंध में डिप्टी कमिश्नर गुरपाल सिंह ने बताया कि सुबह सुबह हमने मंडियों का दौरा किया और सभी किसानों और वैंडर्स का मैडिकल चेकअप करने के  पश्चात ही इन सबको पब्लिक डिस्ट्रीब्यूशन सिस्टम के लिए भेजा जा रहा है। सभी को पूरी जांच के बाद ही कर्फ़्यू पास देकर रवाना किया जा रहा है और इस परिक्रिया का पालन रोज़ किया जाएगा। 
उन्होंने कहा जिला प्रशासन द्वारा सभी लोगों को घरों तक सामान ठीक से पहुँचे मिले इस पर भी नज़र रखी जा रही है।

DO NOT MISS