General News

पुलवामा अटैक: NIA की जांच में बड़ा खुलासा, सूत्र- 'करीब 25-30 किलो RDX का हुआ इस्तेमाल'

Written By Ayush Sinha | Mumbai | Published:

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद पूरे देश में आक्रोश का माहौल है। सूत्रों के मुताबिक पुलवामा अटैक में नेशनल इनवेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) ने जांच में बहुत बड़ा खुलासा किया है। मिल रही जानकारी के मुताबिक इस कायराना हमले में करीब 25 से 30 किलो आरडीएक्स का इस्तेमाल हुआ है।

NIA की 12 सदस्यीय टीम, CFSL के एक्सपर्ट के साथ पहले से ही श्रीनगर में कैम्प कर रही हैं। जांच एजेंसी टीम ने कई बार पुलवामा हमले के स्पॉट से सैम्पल ले चुकी है। अब ये जानकारी मिल रही है कि NIA कॉन्वॉय हमले में शामिल संदिग्ध ओवर ग्राउंड वर्कर से भी पूछताछ करेगी।

बता दें, धमाकों में इस्तेमाल किए गए विस्फोटकों की प्राथमिक एक्सप्लोजिव डिटेक्शन टेस्ट हो चुका है। सूत्रों के मुताबिक करीब 25 से 30 किलो आरडीएक्स का इस्तेमाल हुआ। इसके साथ ही अन्य विस्फोटक भी इस्तेमाल किए गए।

इन धमाकों में फिलहाल आरडीएक्स के इस्तेमाल की बात सामने आई है। ये टेस्ट एनआईए, सीएफएसएल, एनएसजी और जम्मू कश्मीर पुलिस ने अपने अपने स्तर पर किया है और नमूनों को आगे की जांच के लिए भेजा गया है।

ख़बर ये भी सामने आ रही है कि धमाके वाली कार किट को तैयार होने में तीन से चार दिन लगे थे। जांच में ये बात सामने आ रही है कि काप में प्लास्टिक के डिब्बे, और विस्फोट के लिए स्विच को स्टेयरिंग के पास लगाया गया था। यानी आरडीएक्स को प्लास्टिक के डब्बे में रखा गया था और स्विच स्टेयरिंग के पास लगाया गया था।

इसके अलावा खुफिया एजेंसियां उस इंटेलिजेंस रिपोर्ट का भी आंकलन कर रही हैं जिसमें इस बात का जिक्र है कि कुछ हफ्ते पहले पिट्ठू बैग लिए संदिग्ध आतंकी घाटी में दाखिल हुए थे।

गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में बृहस्पतिवार को जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी ने विस्फोटकों से लदे वाहन से सीआरपीएफ जवानों की बस को टक्कर मार दी, जिसमें 40 जवान शहीद हो गए। 

इसे भी पढ़ें - पाक परस्तों के खिलाफ एक्शन में सरकार, 12 अलगाववादियों की सुरक्षा और सुविधा पर लग सकती है लगाम

इस हमले के बाद हर किसी के आंखों में आंसू और दिल में दर्द है, लेकिन इन सबके साथ देश का बच्चा-बच्चा बदले की मांग कर रहा है।

DO NOT MISS