General News

सोनभद्र : हिरासत में ली गईं प्रियंका गांधी, बोलीं- जहां ले जाएंगे हम जाने को तैयार हैं लेकिन झुकेंगे नहीं

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

उत्तर प्रदेश कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को आज सोनभद्र में हुए हिंसक झड़प में मारे गए दस लोगों के परिजन से मिलने जाते वक्त  नारायण पुलिस चौकी पर प्रशासन ने रोक लिया है। जिला प्रशासन की इस कार्रवाई पर प्रियंका ने कहा कि मेरे वहां पर जाने से कोई कानून व्यवस्था पर असर नहीं पड़ने वाला। उन्होंने कहा कि मुझे किस कानून के तहत रोका गया. प्रियंका गांधी धरने पर बैठ गई हैं। 

धरने पर बैठी प्रियंका ने कहा कि मुझे जिला प्रशासन के अधिकारी ऑर्डर की कॉपी दिखाया जाए कि किस नियम के तहत रोका  गया । मैं पीड़ित परिवार से मीलने सिर्फ 4 लोगों के साथ जाना चाहती हूं। फिर प्रशासन हमें वहां जाने नहीं दे रहा है। 


जानकारी के अनुसार प्रियंका गांधी वाड्रा को हिरासत में लेने के बाद चुनार गेस्ट हाउस ले जाया गया।  इस दौरान उन्होंने कहा मुझे पता नहीं कि कहां ले जाया जा रहा है, लेकिन वे जहां ले जाएंगे हम जाने को तैयार हैं लेकिन झुकेंगे नहीं।  फिलहाल प्रियंका गांधी को चुनार गेस्टहाऊस ले जाया जा रहा है। 

सोनभद्र गोलीकांड में घायल लोगों से मिलने वाराणसी के अस्पताल पहुंची कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा अपने समर्थकों के साथ धरने पर बैठीं। खुद को सोनभद्र जाने से रोके जाने के आदेश दिखाने की मांग की।

वहीं, यूपी के डीजपी ने रिपब्लिक भारत से बात करते हुए कहा कि प्रियंका गांधी वाड्रा को हिरासत में नहीं लिया गया है। उन्हें सिर्फ रोका गया है। 

इस घटना पर उत्तर प्रदेश ने कहा कि अतिरिक्त महानिदेशक (वाराणसी जोन) से 17 जुलाई से पहले सोनभद्र में आदिवासियों और ग्राम प्रधान द्वारा दर्ज कराए मामलों की जांच करने के लिए कहा गया है ।

सीएम योगी ने कहा सोनभद्र में हुए संघर्ष मामले में उपमंडलीय मजिस्ट्रेट, सर्किल अधिकारी और पुलिस निरीक्षक को निलंबित कर दिया गया है, इस घटना के सिलसिले में ग्राम प्रधान और उसके भाई समेत 29 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

योगी ने आगे कहा घटना की जांच के लिए अतिरिक्त मुख्य सचिव (राजस्व) के नेतृत्व में तीन सदस्यीय समिति का गठन किया गया है जो दस दिनों के अंदर रिपोर्ट सौंपेगी ।  

(इनपुट-भाषा से भी)

DO NOT MISS