pc - twitter
pc - twitter

General News

मोदी ने किसान नेता सर छोटू राम की प्रतिमा का अनावरण किया

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को हरियाणा के रोहतक जिला स्थित सांपला गांव में किसान नेता सर छोटू राम की 64 फीट ऊंची प्रतिमा का अनावरण किया.  सांपला किसान नेता का पैतृक गांव है.

प्रतिमा के अनावरण के बाद मोदी ने किसान नेता को पुष्पांजलि अर्पित की और उनकी याद में बने एक संग्राहलय का दौरा किया. वहां मोदी ने सर छोटू राम के जीवन पर बनी चार मिनट की डॉक्यूमेंट्री देखी. 

24 नवंबर 1881 को जन्मे सर छोटू राम को किसानों का मसीहा कहा जाता है और वह स्वतंत्रता से पहले के काल में किसानों के सशक्तिकरण के लिए किसान हितैषी कानून लागू कराने में मददगार रहे थे. उन्होंने ब्रिटिश शासन के दौरान किसानों के अधिकारों की लड़ाई लड़ी.

इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि आज चौधरी साहब जहां भी होंगे, उन्हें हरियाणा में बेटी बचा-बेटी पढ़ाओ अभियान की सफलता देख कर भी प्रसन्नता हो रही होगी.  उन्होंने बदलाव के लिए सिर्फ आवाज़ ही नहीं उठाई थी, बल्कि समाज की सोच में परिवर्तन के लिए शुरुआत अपने घर से ही की थी. 

पीएम मोदी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि बेटियों को लेकर जो सोच हमारे समाज में रही है, उसका उन्होंने हमेशा विरोध किया.  यही कारण है कि समाज के हर दबाव के बावजूद वो अपनी दो बेटियों के साथ हमेशा, मजबूती से खड़े रहे. आज हरियाणा देश के विकास को गति दे रहा है। ये गति निरंतर तेज़ हो इसके लिए हम सभी को काम करना है। यही संदेश चौधरी छोटूराम जी का हम सभी के लिए है.

पीएम ने कहा सामाजिक समरसता और राष्ट्रीय एकता के लिए समर्पित राष्ट्रपुरुष को सच्ची श्रद्धांजलि तभी होगी जब हम मिलकर उनके सपनों का भारत बनाएंगे, नया भारत बनाएंगे.

उन्होंने कहा मैं हरियाणा वासियों को बधाई देता हूं कि आयुष्मान भारत की पहली लाभार्थी आपके राज्य की ही एक बेटी है। ये भी संतोष की बात है कि इस योजना के माध्यम से दो हफ्ते में ही 50 हज़ार से अधिक गरीब भाई-बहनों को या तो इलाज मिल चुका है या फिर उनका इलाज हो रहा है:

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और सर छोटू राम के नाती एवं केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह भी इस कार्यक्रम में मौजूद थे.  इसके अलावा राज्य के मंत्री राम बिलास शर्मा एवं कैप्टन अभिमन्यु और कांग्रेस सांसद दीपेंद्र हुड्डा उपस्थित थे. 

प्रख्यात शिल्पकार एवं पद्मभूषण से सम्मानित राम वनजी सुतार ने 64 फीट ऊंची प्रतिमा तैयार की है. 

प्रतिमा के निर्माण के लिए राज्य के करीब 5,500 किसानों ने आधे किलोग्राम से लेकर दो किलो तक का लोहा दान किया.

प्रतिमा का अनावरण इस लिहाज से अहम माना जा रहा है कि अगले साल की शुरुआत में ही लोकसभा एवं हरियाणा विधानसभा के चुनाव होने हैं.

( इनपुट - भाषा से भी )
 

DO NOT MISS