General News

राइफल तानकर, हाथ उठवाकर राहगीरों की तलाशी क्यों ले रही यूपी पुलिस, देखें वीडियो

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

उत्तर प्रदेश पुलिस का एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब सुर्खिया बटोर रहा है। वीडियो में स़ड़क पर खड़े कुछ पुलिस वाले वहां से गुज़र रहे लोगों की बंदूक तान कर तलाशी ले रहे हैं। वीडियो यूपी का  बदायूं का है। पहले वीडियो का हिस्सा लगाए आदमी हाथ ऊपर करे खड़ा है और पुलिसवाले ने तमंचा तान रखा है। एनकाउंटर के लिए चर्चित उत्तर प्रदेश पुलिस अब गन पॉइंट पर आम जनता की तलाशी ले रही है।  सूबे के बदायूं शहर में मोटरसाइकिल पर सवार होकर जा रहे आम लोगों की तलाशी अब बंदूक की नोक पर हो रही है। 

वीडियो बदायू के वीज़रगंज इलाके का है। जहां सड़क किनारे कुछ पुलिस वाले वहां से गुज़रने वाले लोगों की चेकिंग कर रहे हैं। उनकी गाड़ियों के कागज़ात मांगे जा रहे हैं, लेकिन ये सब बंदूक की नोक पर हो रहा है।

आप तस्वीरों में देख सकते हैं एक पुलिस अधिकारी और कुछ कॉन्‍स्‍टेबल बीच सड़क पर मोटरसाइकिल सवार लोगों को गन पॉइंट पर रोक रहे हैं। 

पुलिस अधिकारी खुद पिस्तौल तान कर या फिर सिपाहियों से रायफल तनवाकर लोगों को रोक रहे हैं। जैसे ही कोई बाइक सवार आता दिखाई दे रहा है. सिपाही राइफल तान सामने खड़ा हो जाता है. पुलिस अधिकारी बाइक सवार को हैंड्स-अप करने को कहता हैं. और इसके बाद तलाशी शुरू हो जाती है। 

पुलिस अधिकारी बाइक सवारों को चेतावनी दे रहे हैं कि वे अपना हाथ ऊपर रखें और हिले नहीं। निर्देशों का पालन नहीं करने पर गोली मारने की धमकी दी जा रही है 

मानो ये कोई आम आदमी नहीं बल्कि कोई आतंकी या फिर फरार मुजरिम है। लेकिन एसएसपी साहब इसे ट्रेनिंग का हिस्सा बता रहे हैं। 

हालांकि सवाल ये कि आखिर आम लोगों की तलाशी इस तरह क्यों ली जा रही है। क्यों आम लोगों से एक मुजरिम की तरह बर्ताव किया जा रहा है। 

 वही इस तरह की चेकिंग पर जिले के पुलिस कप्तान अशोक कुमार त्रिपाठी का कहना है कि टू व्हीलर और फोर व्हीलर की जो चेकिंग होती है उसमें विगत कुछ अनुभव रहे हैं कि अपराधी प्रवृत्ति के जो लोग होते हैं उनके पास वेपन होते हैं और वह फायर कर देते हैं दो या दो से अधिक लोग अगर हुए तो वे फायरिंग हुई है उसमें कई बार पुलिस कर्मचारियों की कैजुअल्टी भी हुई है उसी को ध्यान में रखकर इस प्रकार की चेकिंग की जा रही है ताकि उनके द्वारा घटना को अंजाम ना दिया जाए और अगर कुछ करते हैं तो हमारे द्वारा उसका जवाब दिया जाए चेकिंग का उद्देश्य मात्र अपने आप को सेव रखना है बाकी इसका अन्य कोई उद्देश्य नहीं है।