General News

जलपाईगुड़ी में PM नरेंद्र मोदी बोले- चिटफंड घोटाले के पीड़ितों से वादा करता हूं, पाई-पाई का हिसाब लिया जाएगा

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

कोलकाता पुलिस बनाम सीबीआई के बीच चल रहे उठापटक के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी पहुंचे हैं। यहां चुराभंडार ईलाके में पीएम मोदी सार्वजनिक रैली को संबोधित  किया। इस दौरान पीएम मोदी ने कांग्रेस , तृणमूल कांग्रेस समेत सभी वामदलों को निशाने पर लिया । पीएम मोदी ने ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि आज पश्चिम बंगाल में एक ऐसी मुख्यमंत्री है जो गरीबों की मेहनत से जुटाई पाई - पाई को लूटने वालों के रक्षा में खड़ी हैं ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा , पश्चिम बंगाल में मां, माटी , मानुष के नाम पर जिनको आपने सत्ता दी , जिनको कम्युनिस्टों के कुशासन से मुक्ति दिलाने का जिम्मा दिया । उन्होंने वही खून - खराबे का पॉलिटिकल कल्चर अपना बना लिया है । आज स्थिति है पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री तो दीदी हैं लेकिन दादगिरी किसी और की चल रही है । शासन टीएमसी के जगाई और मधाई चला रहे हैं ।


पीएम मोदी ने आगे कहा कि यहां की सरकार देश भर से आए ऐसे लोगों का स्वागत करती है जिनपर गंभीर आरोप है, यहां की सरकार घुसपैठियों का भी स्वागत करती है, लेकिन विश्व के सबसे बड़े राजनीतिक दल भारतीय जनता पार्टी के नेताओं को यहां आने से रोका जाता है। टीएमसी की सरकार की तमाम योजनाओं के नाम पर बिचौलियों के अधिकार हैं, दलालों के अधिकार हैं। दीदी दिल्ली जाने के लिए परेशान है, बंगाल के गरीबों और मध्यमवर्ग को सिंडिकेट के गठबंधन से लूटने के लिए छोड़ दिया है।' इतना ही नहीं, पीएम ने चिटफंड घोटाले में सबूत मिटाने के आरोपी कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार का बचाव करने को लेकर ममता बनर्जी पर जमकर अटैक किया।

यहां की सरकार देश भर से आए ऐसे लोगों का स्वागत करती है जिनपर गंभीर आरोप है, यहां की सरकार घुसपैठियों का भी स्वागत करती है, लेकिन विश्व के सबसे बड़े राजनीतिक दल भारतीय जनता पार्टी के नेताओं को यहां आने से रोका जाता है ।

इससे पहले  पीएम मोदी जलपाईगुड़ी में राष्ट्रीय राजमार्ग - 31 डी के फलाकात - सलसलाबाड़ी खंड को चार लेन किये जाने की आधारशिला रखेंगे. पीएमओ से जारी एक बयान में कहा गया राष्ट्रीय राजमार्ग का यह 41.7 किलोमीट लंबा खंड पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी जिले में आता है और इसे करीब 1938 करोड़ रुपय की लागत से बनाया जाएगा । इस दौरान पीएम मोदी ने नई सर्किट बेंच का भी उद्घाटन किया।


 

DO NOT MISS