PC-: Twitter/@PTIOfficial)
PC-: Twitter/@PTIOfficial)

General News

J&K पर आखिरकार पाक ने मानी हार, विदेश मंत्री कुरैशी ने कहा- 'UN में हमारे लिए कोई खड़ा नहीं हैं जीत मिलनी नामुमकिन'

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

पाकिस्तान की गीदड़ भभकी में कितना दम है उसकी पोल खुद पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने ही खोल दी है। ईद के मुबारक मौके पर कुरैशी ने पाकिस्तानियों को आगाह कर दिया कि दिन में सपने ना देखें।  क्योंकि यूएन में कोई हार लेकर नहीं खड़ा है जो हमारे हक में कुछ कह देंगे। मतलब कुरैशी ने खुलेआम ये मान लिया है कि भारत से पंगा लेना खुद पाकिस्तान के लिए अपने पैरों पर कुल्हाड़ी मारने जैसा है।


ये सच है जो पाकिस्तान के सियासतदानों के मुंह से ईद के चांद की तरह ही निकलता है। लेकिन ईद के मुबारक मौके पर पाक के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के मुंह से ये सच आखिर भरी महफिल में सामने आ ही गया। अब पाक के विदेश मंत्री ने खुले आम मान लिया है कि यूएन में कश्मीर मुद्दे को ले जाने पर कोई देश पाकिस्तान की बात वैसे ही नहीं सुनने वाला है। दुनिया पाक के दावत का इंतजार नहीं कर रही है। यूएन में कोई पाक के लिए हार लेकर नहीं खड़ा है जो पाक वहां जाएगा तो दुनिया उसका झूठ आंख बंद करके कुबूल कर लेगी। जमाना बदल गया है भारत भी अब बदल गया है। जरा सुनिए कुरैशी के दिल का हाल जो बता रहा है कि दुनिया में पाक की क्या स्थिति रह गई है।

बता दें पाकिस्तान की अक्ल ठिकाने आ गई है। उसकी हेकड़ी टूट गई है जो पाकिस्तान अब तक जम्मू-कश्मीर से 370 हटाने के बाद भारत के खिलाफ सभी विकल्प आजमाने की बात कर रहा था अब उसके तेवर ठंडे पड़ गए हैं। पाक की इमरान सरकार ने घटिया सोच दिखाते हुए पहले तो भारत से कूटनीतिक संबंधों को खत्म कर दिया। इसके बाद अपने राजदूतों को वापस बुला लिया। द्विपक्षीय व्यापारिक संबंधों को तोड़ा , द्विपक्षीय समझौतों पर समीक्षा करने की बात कही, लाहौर बस सेवा और समझौता एक्सप्रेस रोक दी, हवाई सीमा पर आंशिक प्रतिबंध लगाया, भारतीय फिल्मों और कलाकारों पर पाबंदी लगाई। 


यूएन में पाकिस्तान पूरी दुनिया से मदद की भीख मांगता रहा। अमेरिका, रूस , चीन, ईरान समेत तमाम इस्लामिक देशों ने पाकिस्तान की मदद से इनकार कर दिया और 370 हटाने को भारत का आंतरिक मामला बता दिया। पाक ने फिर कश्मीर मसले को यूएन में उठाने की धमकी दी लेकिन अब उसके विदेश मंत्री का बयान खुद बतला रहा है कि पाक में कितना दम है। कुरैशी ने ये भी कहा कि इस्लामिक देश अपने हितों को छोड़कर भारत के खिलाफ नहीं जाएंगे , इसके साथ ही सुरक्षा परिषद के स्‍थायी सदस्‍यों के भी निजी हित भारत से हैं और भारत के बाजार पर पूरी दुनिया की निगाहें है । भारत की अर्थव्यवस्था पाक के मुकाबले काफी बड़ी और मजबूत है। 

कुरैशी के इस बयान के बाद मतलब साफ है कि कटोरा लेकर मदद की भीख मांगने वाले इमरान की दुनिया में कोई सुन नहीं रहा। पाक अलग-थलग पड़ चुका है। पाक के झूठ को तो दुनिया भी अब जानने लगी है फिर भी पाक के सियासतदां अपने देश की जनता के सामने असल मुद्दों को छोड़कर कश्मीर-कश्मीर का राग अलापने में लगे हैं। दरअसल 370 हटाने के बाद कश्मीर में अमन और चैन ने पाकिस्तान को बेचैन कर दिया है। आतंकवाद की जड़ पर मोदी सरकार के प्रहार ने पाक को चारों खाने चित कर दिया है।

DO NOT MISS