General News

इलाहाबाद अब से प्रयागराज, उत्तर प्रदेश के राज्‍यपाल राम नाईक ने दी मंजूरी

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद जनपद का नाम बदलकर प्रयागराज किए जाने की अधिसूचना की जिलाधिकारी सुहास एल.वाई. ने शनिवार को जानकारी देते हुए कहा कि जिले के समस्त कार्यालयों के सभी क्रियाकलापों में जिला इलाहाबाद के स्थान पर जिला प्रयागराज प्रयोग किए जाने के निर्देश जारी किए गए हैं. यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू है.

जिलाधिकारी कार्यालय द्वारा जारी ज्ञापन के मुताबिक, उत्तर प्रदेश शासन के राजस्व अनुभाग-5 अधिसूचना संख्या 1574/1-5-2018-72/2017 के माध्यम से 18 अक्तूबर, 2018 को राज्यपाल राम नाईक ने जिला इलाहाबाद का नाम परिवर्तित कर प्रयागराज कर दिया.

साथ ही, यह भी निर्देशित किया गया है कि इस अधिसूचना की किसी बात का प्रभाव किसी विधि न्यायालय में पहले से प्रारंभ या विचाराधीन किसी विधिक कार्यवाही पर नहीं पड़ेगा.

उल्लेखनीय है कि 13 अक्टूबर को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इलाहाबाद प्रवास के दौरान एक बैठक में अखाड़ा परिषद के सदस्यों और अन्य लोगों ने मुख्यमंत्री से कुंभ मेले से पहले जिले का नाम परिवर्तित कर प्रयागराज करने की मांग की थी.

यह भी पढ़ें - इलाहाबाद का नाम बदलने पर बोले अखिलेश- ये परंपरा-आस्था के साथ खिलवाड़, सरकार ने ये किया पलटवार

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज इसे परम्परा और आस्था के साथ खिलवाड़ करार दिया था.

उन्होंने कहा था कि ‘‘राजा हर्षवर्धन ने अपने दान से प्रयाग कुम्भ का नाम किया था और आज के शासक केवल ‘प्रयागराज’ नाम बदलकर अपना काम दिखाना चाहते हैं. इन्होंने तो ‘अर्ध कुम्भ’ का भी नाम बदलकर ‘कुम्भ’ कर दिया है. ये परम्परा और आस्था के साथ खिलवाड़ है . ’’

अखिलेश ने ‘ट्वीट‘ कर कहा कि प्रयाग कुम्भ का नाम केवल प्रयागराज किया जाना और अर्द्धकुम्भ का नाम बदलकर ‘कुम्भ‘ किया जाना परम्परा और आस्था के साथ खिलवाड़ है. अगर राज्यपाल (राम नाईक) ने इसके लिये पहले ही अनुमोदन दे दिया है .

 

DO NOT MISS