General News

शरद पवार ने बोला मोदी सरकार पर हमला, "ऐसी बर्बादी की सरकार आजादी के बाद कभी नहीं आयी"

Written By Digital Desk | Mumbai | Published:

पूर्व केन्द्रीय मंत्री और लोकतांत्रिक जनता दल के संरक्षक शरद यादव ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर जनता से किए वादे पूरा नहीं करने का आरोप लगाते हुए रविवार को कहा कि ऐसी बर्बादी की सरकार आजादी के बाद कभी नहीं आयी.

मुजफ्फरपुर स्थित परिसदन में पत्रकारों से बातचीत करते हुए शरद ने आरोप लगाया कि 2014 के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जो वादे किए उनमें से एक भी पूरा नहीं कर सके. उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी एक बार फिर झूठे वादों की झड़ी लगा रहे हैं. महंगाई आसमान छूती जा रही है और पेट्रोल-डीजल की कीमतें रोजाना बढ़ रही हैं.

शरद ने पेट्रोल—डीजल के दाम में बढोतरी की ओर इशारा करते हुए आरोप लगाया कि केंद्र की वर्तमान सरकार ने इसके नाम पर 11 लाख करोड़ रूपये जनता की जेब से निकाल लिया.

यह भी पढ़ें- शरद पवार बोले, 'जब तक नहीं हैं मेरे पास सबूत तब नहीं लगाऊंगा PM और अन्य लोगों पर आरोप'

उन्होंने वर्तमान केंद्र सरकार पर 'तेल की लूट' की नीति पर चलने का आरोप लगाया और कहा कि इस सरकार ने हर चीज चौपट कर दिया है. नोटबन्दी के कारण सात करोड़ लोगों का रोजगार छीन गया. ऐसी बर्बादी की सरकार आजादी के बाद कभी नहीं आयी.

बिहार में सत्तासीन जदयू के पूर्व अध्यक्ष शरद ने प्रदेश की नीतीश कुमार सरकार पर प्रहार करते हुए आरोप लगाया कि यही हाल इस राज्य का हो गया है.

यह भी पढ़ें- गुजरात में हिंदी भाषियों को सुरक्षा देने में विफल रही रूपाणी सरकार इस्तीफा दे: शरद यादव

शरद ने बक्सर जिला के नंदन गांव में मुख्यमंत्री के काफिले पर पथराव के बाद दलित महिलाओं को जेल भेजने और मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन शोषण कांड की चर्चा करते हुए आरोप लगाया इस तरह की वारदातों से राज्य सरकार की विफलता उजागर होती है. सूबे में महिलाएं असुरक्षित हैं.

बिहार में अपराध की बढ़ती घटनाओं पर नीतीश सरकार को आडे़ हाथों लेते हुए शरद ने आरोप लगाया कि अपराधियों पर राज्य सरकार की पकड़ नहीं है. ये डबल इंजन की सरकार किसी व्यक्ति विशेष और पार्टी को ताकत देने के लिए है, यह बिहार की जनता को ताकतवर नहीं बना पा रही है.

(इनपुट- भाषा)

 

DO NOT MISS