General News

CM कैप्टन अमरिंदर ने लाहौर पहुंचे सिद्दधू को दी हिदायत, कहा - 'विदेशी धरती पर भारत की नीतियों का ख्याल रखें.'

Written By Amit Bajpayee | Mumbai | Published:

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने रिपब्लिक टीवी के ऐडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी से एक्सलुसिव बातचीत की. इस दौरान कैप्टन अमरिंदर करतारपुर गलियारे के शिलान्यास पर मचे बवाल पर खुल कर अपनी राय रखी.

कैप्टन ने इशारों ही इशारों में पाकिस्तान गए अपने कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को भी हिदायत दे दी. उन्होंने कहा ''जब भी आप किसी दूसरे देश की सरज़मीन पर होते हैं तो आपको भारत की पॉलिसी को पहली प्राथमिकता देनी चाहिए. 

कैप्टन ने आगे कहा, 'नवजोत सिंह सिद्धू का पाकिस्तान दौरा ऑफिसयल नहीं है. अगर कोई कैबिनेट मंत्री विदेश दौरे पर जाते हैं तो वह मुझसे इजाजत लेकर जाते हैं और मैं उन्हें जाने की अनुमति देता हूं. लेकिन नवजोत सिंह सिद्धू का यह प्राइवेट दौरा है. उन्होंने इसके लिए विदेश मंत्रालय से अनुमति मांगी है. इसके बाद वह वहां गए. मगर वहां जो इंसान वह अलग है. अगर आप किसी दूसरे देश के सरजमी पर है तो भारत के हित का ख्याल रखना चाहिए.' 

कैप्टन अमरिंदर ने आगे कहा , 'तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी के कार्यकाल के दौरान जब मैं पाकिस्तान गया था. उस वक्त मुझसे बहुत सारे सवाल किए गए थे तब मैंने भारत की पॉलिसी को पहली प्राथमिकता दी .' 

उधर सिद्धू ने इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में बाजवा से गले लगने पर सफाई देते हुए कहा - बाजवा से झप्पी एक सेकंड की थी , यह कोई राफेल डील नहीं थी. जब दो पंजाबी भावनात्मक रूप से मिलते हैं तो गले लगते हैं. इसपर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि , 'मुझे नहीं पता नवजोत सिंह सिद्धू इस तरह का बयान विदेशी धरती पर क्यों दे रहे हैं. अगर आप किसी दूसरे देश के सरजमी पर है तो भारत के हित का ख्याल रखना चाहिए. 

कैप्टन अमरिंदर ने कहा -पाक आर्मी चीफ जनरल बाजवा से गले मिल कर नवजोत सिंह सिद्धू जब भारत लौटे, तो मैंने उनसे कहा था कि ''आपको यह नहीं करना चाहिए. हर दिन भारतीय सैनिक सीमा पर शहीद हो रहे हैं और इन सबके पीछे का मास्टमाइंड पाक आर्मी चीफ बाजवा हैं उसी के आदेश का पालन पाक सेना ग्राउंड पर करती है और आप इस तरह के धोखे बाज व्यक्ति से गले लग कर आ रहे हैं. ''

बता दें इससे पहले कैप्टन अमरिंदर सिंह ने करतारपुर गलियारे के शिलान्यास के दौरान पाकिस्तान आर्मी चीफ कमर बाजवा को चेतावनी देते हुए कहा- पाकिस्तान के सेना प्रमुख बाजवा अभी मुझसे काफी जूनियर हैं, मैं मुशर्रफ से भी सीनियर हूं . हर फौजी को पता है कि दूसरा फौजी क्या सोच रहा है. हम हमेशा अपने देश की रक्षा करना चाहते हैं, लेकिन तुम्हें ये किसने सिखाया है कि आम लोगों को मार दो. लोग अमृतसर में कीर्तन कर रहे थे , और वहां ग्रेनेड मार दिया गया. '

सीएम कैप्टन अमरिंदर ने कहा , ' बतौर सिख मैं चाहता हूं कि मैं करतारपुर साहिब जाऊं, लेकिन मैं मुख्यमंत्री भी हूं . यही कारण है कि मैं नहीं जाना चाहता हूं . उन्होंने कहा , 'मैं पाकिस्तान आर्मी चीफ को बता दूं कि हम भी पंजाबी हैं. आपको यहां आकर माहौल बिगाड़ने की इजाजत नहीं देंगे. '

DO NOT MISS