General News

VIDEO: 38 साल के हुए धोनी; पत्नी साक्षी और दोस्तों के साथ मनाया जन्मदिन, लाडली जीवा के साथ किया डांस

Written By Neeraj Chouhan | Mumbai | Published:

भारत को दो-दो विश्वकप का ट्राफी दिलाने वाले अनहोनी को होनी करने वाले पूर्व कप्तान 'मिस्टर कूल' के नाम से मशहूर महेंद्र सिंह धौनी आज अपना 38वां जन्मदिन है। पूरा देश माही का जन्मदिन मना रहा हैं, धोनी ने अपना जन्मदिन इंग्लैंड में मनाया, पत्नी साक्षी और बेटी जीवा साथ हैं।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by ZIVA SINGH DHONI (@ziva_singh_dhoni) on

बता दें, झारखंड की राजधानी रांची के एक परिवार में आज के दिन यानी सात जुलाई को जन्मे महेंद्र सिंह धोनी ने अपनी योग्यता और जुझारूपन से विश्व क्रिकेट में एक अनूठा मुकाम हासिल किया है। 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Sakshi Singh Dhoni (@sakshisingh_r) on

उनकी सफलताओं को देखते हुये उन्हें पद्म भूषण, पद्म श्री और राजीव गाँधी खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है। माही के नाम से लोकप्रिय धोनी आईसीसी की तीनों विश्व प्रतियोगिताएं जीतने वाले इकलौते कप्तान हैं। उनकी कप्तानी में भारत ने 2007 में टी20 विश्व कप, 2011 में एकदिवसीय विश्व कप और 2013 में चैम्पियन्स ट्राफी का खिताब जीता था। 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by ZIVA SINGH DHONI (@ziva_singh_dhoni) on

इस मौके पर आईसीसी ने इस पूर्व कप्तान की उपलब्धियों को साझा करके उन्हें ‘भारतीय क्रिकेट का चेहरा बदलने वाला’ करार किया। आईसीसी ने भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए एक वीडियो साझा किया है। 

वीडियो के साथ ट्विटर पर आईसीसी ने लिखा, ‘‘ एक ऐसा नाम जिसने भारतीय क्रिकेट के चेहरे को बदल दिया। ऐसा नाम जो दुनियाभर के लाखों लोगों के लिए प्रेरणा का स्रोत है। ऐसा नाम जो विवादों से परे रहा है, महेन्द्र सिंह धोनी सिर्फ नाम नहीं है।’’ 

इस वीडियो में भारतीय कप्तान विराट कोहली, तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह, इंग्लैंड के विकेटकीपर जोस बटलर, हरफनमौला बेन स्टोक्स और अफगानिस्तान के विकेटकीपर मोहम्मद शहजाद का धोनी को लेकर बयान है।

कोहली ने कहा, ‘‘ आप बाहर से जो देखते हैं, वह इस बात से बहुत अलग है कि वह व्यक्ति कैसा है। वह हमेशा से शांत और एकाग्र रहे है, उनसे काफी कुछ सिखा जा सकता है। वह मेरे कप्तान थे और हमेशा रहेंगे। एक-दूसरे को लेकर हमारी समझ कमाल की है। मुझे उनके सुझाव का हमेशा से इंतजार रहता है।’’ 

बुमाराह ने कहा, ‘‘ 2016 में जब मैं टीम में आया था तब वह कप्तान थे। वह टीम को शांत रखते है और मदद के लिये हमेशा तैयार रहते है।’’ 

DO NOT MISS